शराब सिंडीकेट पर चीफ़ मिनिस्टर और वज़ीर ट्रांसपोर्ट में तल्ख़ बहस

शराब सिंडीकेट पर चीफ़ मिनिस्टर और वज़ीर ट्रांसपोर्ट में तल्ख़ बहस

रियास्ती काबीना के इजलास में शराब माफ़िया सिंडीकेट और ऐन्टी क्रप्शन ब्यूरो ओहदेदारों के मुख़्तलिफ़ मुक़ामात पर किए जाने वाले धाव से पैदा शूदा सूरत-ए-हाल पर वुज़रा के दरमयान गर्मा गर्म मुबाहिस की इत्तिलाआत मौसूल हुई हैं । बिलख

रियास्ती काबीना के इजलास में शराब माफ़िया सिंडीकेट और ऐन्टी क्रप्शन ब्यूरो ओहदेदारों के मुख़्तलिफ़ मुक़ामात पर किए जाने वाले धाव से पैदा शूदा सूरत-ए-हाल पर वुज़रा के दरमयान गर्मा गर्म मुबाहिस की इत्तिलाआत मौसूल हुई हैं । बिलख़सूस रियास्ती वज़ीर ट्रांसपोर्ट-ओ-सदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी मिस्टर बी सत्य ना रायना ने सख़्त लब-ओ-लहजा में रियासत के मुख़्तलिफ़ मुक़ामात पर शराब सिंडीकेट के नाम पर जारी धावों के ताल्लुक़ से चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी से दरयाफ़त किया और इस मसला पर चीफ़ मिनिस्टर और वज़ीर ट्रांसपोर्ट के माबैन गर्मा गर्म बहस-ओ-तल्ख़ अलफ़ाज़ के तबादले की इत्तिलाआत हैं ।

बाअज़ वुज़रा मिस्टर बी सत्य ना रायना के साथ इन मुबाहिस में शामिल होगए तो बाअज़ वुज़रा ने इन गर्मा गर्म मुबाहिस के दौरान सुलहसफ़ाई करने की कोशिश करते हुए का बीनी रोफ़क़ा को वाक़िफ़ करवाया कि शराब सिंडीकेट से मुताल्लिक़ बाक़ायदा एक शिकायत ऐन्टी क्रप्शन ब्यूरो को वसूल हुई थी और इस एक शिकायत पर जब तहक़ीक़ात का आग़ाज़ किया गया तो उन तहक़ीक़ात के दौरान एक के बाद दीगरे सिलसिला वार एक वाक़िया से दूसरे वाक़िया का रब्त पाया जा रहा है जिस के नतीजा में ही ऐन्टी क्रप्शन ब्यूरो ओहदेदारों की जानिब से मुख़्तलिफ़ मुक़ामात पर धावे किए जा रहे हैं ।

इलावा अज़ीं एक ओहदेदार के मुलव्विस रहने की इत्तिला पर इस ओहदेदार के मकान पर धावे करने पर दूसरे ओहदेदार के ताल्लुक़ से ( जो शराब सिंडीकेट में मुलव्वस पाए जा रहे हैं ) मालूमात हासिल होरही हैं और तब ही ए सी बी ओहदेदार इन ओहदेदारों -ओ-मुक़ामात पर धावे कररहे हैं और अब इन धावो को अचानक नहीं रोका जा सकेगा क्योंकि ऐन्टी क्रप्शन ब्यूरो एक दस्तूरी इदारा है।

चीफ़ मिनिस्टर के क़रीबी ज़राए ने ये बात बताई और कहा कि चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी ने वज़ीर नशा बन्दी-ओ-आबकारी मिस्टर ऐम वेंकट रमना के नाम को शराब सिंडीकेट से जोड़े जाने पर जो हालात पैदा हुए थे इस का मुक़ाबला करने के लिए वुज़रा की भरपूर मुदाफ़अत की । ज़राए ने बताया कि वज़ीर पंचायत राज मिस्टर के जाना रेड्डी ने बर्क़ी के मसला को मौज़ू बहस बनाया और बताया कि देही इलाक़ों में दिन भर बर्क़ी कटौती की जा रही है जिस की वजह से अवाम में हुकूमत के ताल्लुक़ से मनफ़ी असरात मुरत्तिब होरहे हैं।

उन्हों ने कहा कि बर्क़ी सरबराही के ताल्लुक़ से ओहदेदारान बर्क़ी ने दूर अंदेशी का मुज़ाहरा नहीं किया । वज़ीर देही तर कुयात मिस्टर वे संत कुमार ने गुज़शता दिन मुनाक़िदा ज़िमनी इंतिख़ाबात( सात हलक़ा जात असेंबली) का तज़किरा करते हुए वाज़िह तौर पर कहा कि सात असेंबली हलक़ा जात में कांग्रेस को एक भी नशिस्त हासिल होने की कोई तवक़्क़ो नहीं है

लेकिन आइन्दा मज़ीद 17 हलक़ा जात असेंबली के लिए मुनाक़िद होने वाले ज़िमनी इंतिख़ाबात को पेशे नज़र रखते हुए कम अज़ कम उन ज़िमनी इंतिख़ाबात में पार्टी उम्मीदवारों की कामयाबी के लिए एक जामि हिक्मत-ए-अमली मुरत्तिब करने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया ।

इस के इलावा काबीना के इजलास ने ऐन्टी क्रप्शन ब्यूरो महिकमा में तीन डिप्टी सुपरिनटनडेनटस आफ़ ओहदेदारों की नई जायदादों की मंज़ूरी दी है। काबीना का ये इजलास ज़ाइद अज़ ढाई घंटे जारी रहा ।

Top Stories