शर्मनाक- यूपी में 5 रुपए के लिए ई-रिक्शा चालक की हत्या कत्ल, ये थी वजह

शर्मनाक- यूपी में 5 रुपए के लिए ई-रिक्शा चालक की हत्या कत्ल, ये थी वजह

उत्तर प्रदेश के कानपूर में कर्रही में सोमवार देर रात पांच रुपये किराए के विवाद में ई-रिक्शा ड्राइवर की मुसाफिर ने लकड़ी की फंटी से पीट-पीटकर हत्या कर दी। गुहार सुनकर जुटी भीड़ ने हत्यारोपित को घेरकर पकड़ लिया। पुलिस ने उसके खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया है।

बिल्हौर के बछना गांव निवासी अभिषेक बहेलिया (19) खाड़ेपुर, योगेंद्र विहार नई बस्ती में किराए के मकान में रहकर ई-रिक्शा चलाता था। रिक्शा मालिक बजरंग विहार निवासी आशीष ने बताया कि रात में दोनों साथ ही थे। कर्रही रोड स्थित बीआरएस इंटर कॉलेज के पास खाड़ेपुर निवासी कारपेंटर अजीत ने हाथ देकर ई-रिक्शा रुकवाया और पाल चौराहा चलने को कहा।

पाल चौराहा उतरे अजीत ने पांच रुपये दिए तो अभिषेक ने नाइट चार्ज बताते हुए 10 रुपये मांगे। इस पर गाली-गलौज के बीच अभिषेक ने रुपये फेंक दिए। वहां से दोनों ई-रिक्शा लेकर तिरुपति गारमेंट्स के पास पहुंचे तभी खाड़ेपुर निवासी ड्राइवर विक्रम ने ऑटो से ओवरटेक कर रोका। ऑटो में अजीत भी था। उसने उतरते ही आशीष का गिरहबान पकड़ लिया। इससे नाराज अभिषेक ने ई-रिक्शा से लकड़ी की फंटी निकाली और अजीत के सिर पर मार दी। ऑटो ड्राइवर जानने वाला था, इसलिए वह बीचबचाव करने लगा। इसी बीच अजीत ने अभिषेक के हाथ से फंटी छीनकर उसके सिर पर तीन-चार वार कर दिए, जिससे वह जमीन पर गिर पड़ा। शोर सुनकर आसपास के लोग जुटने लगे तो आशीष और ऑटो ड्राइवर विक्रम भाग गए, जबकि अजीत को भीड़ ने पकड़ लिया।

सूचना पर पहुंची बर्रा थाना पुलिस आनन-फानन में अभिषेक को कर्रही स्थित निजी हॉस्पिटल ले गई, जहां से हैलट रेफर कर दिया गया। हैलट में डॉक्टरों ने देखते ही मृत घोषित कर दिया। बर्रा इंस्पेक्टर सतीश कुमार सिंह ने बताया कि हत्यारोपित गिरफ्तार कर लिया गया है। उसके खिलाफ अभिषेक के पिता घनश्याम बहेलिया की तहरीर पर गैर इरादतन हत्या की एफआईआर दर्ज की गई है। मंगलवार दोपहर अभिषेक के शव का पोस्टमार्टम हुआ, जिसके बाद विसरा सुरक्षित रखा गया।

तीनों नशे में थे धुत्त
आशीष ने बताया कि देर रात अभिषेक के साथ ठाकुर चौराहे पर देसी शराब पी थी। अजीत ने बताया कि रात में जरौली कॉलोनी निवासी दोस्त के घर पार्टी थी। वहां खाने-पीने के बाद घर के लिए लौट रहा था।

नहीं मिली फंटी
अजीत ने जिस फंटी से अभिषेक के सिर पर हमलाकर किया था, वह मंगलवार शाम तक बरामद नहीं हो पाई थी। इंस्पेक्टर ने बताया कि संभावना है कि फंटी को हत्यारोपित ने भीड़ को देख कहीं फेंक दिया होगा। देर रात बारिश के दौरान फंटी आसपास बह गई होगी, जिसकी तलाश कराई जा रही है।

Top Stories