Tuesday , December 12 2017

शर्मीला की तेलंगाना में मुजव्वज़ा यात्रा

वाई एस आर कांग्रेस सदर वाई एस जगन मोहन रेड्डी की बहन शर्मीला 8 दिसंबर से तेलंगाना में यात्रा शुरू करेंगी ताकि जगन की नामुकम्मिल पुर्सा यात्रा को पूरा किया जा सके। इस यात्रा का मक़सद इन अरकाने ख़ानदान के विरसा-ए-से ताज़ियत का इज़हार कर

वाई एस आर कांग्रेस सदर वाई एस जगन मोहन रेड्डी की बहन शर्मीला 8 दिसंबर से तेलंगाना में यात्रा शुरू करेंगी ताकि जगन की नामुकम्मिल पुर्सा यात्रा को पूरा किया जा सके। इस यात्रा का मक़सद इन अरकाने ख़ानदान के विरसा-ए-से ताज़ियत का इज़हार करना है जो साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर वाई एस राज शेखर रेड्डी की 2009 में अचानक मौत के सबब सदमे से चल बसे थे।

शर्मीला की यात्रा 8 दिसंबर को असेंबली हलक़ा कलवाकुरती ज़िला महबूबनगर से शुरू होगी और 10 हलक़ों का अहाता किया जाएगा। वाई एस आर कांग्रेस की कार गुज़ार सदर तेलंगाना पी श्रीनिवास रेड्डी ने यात्रा का पोस्टर जारी करने के बाद ज़राए इबलाग़ के नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि हबूबनगर में वाई एस आर की मौत की ख़बर पर 18 अफ़राद ने अपनी जान देदी थी।

जगन मोहन रेड्डी ने खम्मम में पुर्सा यात्रा मुकम्मिल करली लेकिन माबकी 9 अज़ला में मुख़्तलिफ़ वजूहात की बिना ये यात्रा पूरी ना होसकी थी। इस यात्रा में इन किसानों के ख़ानदानों को भी शामिल किया गया है जिन्होंने ख़ुदकुशी की है।

श्रीनिवास रेड्डी ने बताया कि हुकूमत की ग़लतीयों की वजह से 150 ख़ानदानों ने ख़ुदकुशी की है। उन्होंने कहा कि इस इलाके में अवाम के तमाम तबक़ात वाई एस आर को काफ़ी पसंद करते हैं क्युंकि उन्होंने कई फ़लाही स्कीमात शुरू की थी और इस से अवाम को काफ़ी फ़ायदा पहुंचा।

उन्होंने टी आर एस हुकूमत पर इंतिख़ाबी वादों को पूरा करने में नाकाम होने का इल्ज़ाम आइद किया। शर्मीला की यात्रा के सियासी मक़ासिद की तरदीद क्रीत हुए उन्होंने कहा कि मुस्तक़बिल क़रीब में कोई चुनाव नहीं होरहे हैं और इस यात्रा के कोई सियासी मुहर्रिकात नहीं है। इस का मक़सद सिर्फ़ वाई एस जगन मोहन रेड्डी के वादे को पूरा करना है।

TOPPOPULARRECENT