Tuesday , December 12 2017

शहनवाज की हार से भाजपा खेमे में मायूसी, कारकुनान हो गये सन्न

16 मई को पॉलीटेक्निक कॉलेज में वोटों की गिनती के दौरान दिन भर भाजपा कारकुनान के चेहरे पर खुशी और उदासी के एहसास आते-जाते रहे। आखिरकार शाम तक भाजपा खेमे में शाहनवाज हुसैन की हार से मायूसी छा गयी।

16 मई को पॉलीटेक्निक कॉलेज में वोटों की गिनती के दौरान दिन भर भाजपा कारकुनान के चेहरे पर खुशी और उदासी के एहसास आते-जाते रहे। आखिरकार शाम तक भाजपा खेमे में शाहनवाज हुसैन की हार से मायूसी छा गयी।

जैसे ही मिस्टर हुसैन के हार की इत्तिला कारकुनान को मिली एक-एक कर तमाम कारकुनान और हिमायत अपने-अपने घर की ओर निकल पड़े। इधर कुछ कारकुनान के आंखों से आंसू निकल रहे थे तो कुछ एक दूसरे को कोस रहे थे। उनका कहना था कि इंतेहाई एतमाद और बड़बोलेपन की वजह हार हुई।

पीरपैंती के एमएलए अमन पासवान 06:25 में भाजपा खेमे में आये और कारकुनान को जैसे ही हार की इत्तिला दी। तमाम कारकुनान बिल्कुल सन्न हो गये। थोड़ी दूर खातून कारकुनान की टोली भी हार पर बहस कर रही थी और अपने चेहरे पर लगे अबीर को पोंछ कर हटा रही थी। इधर भाजपा शहर सदर विजय साह और नायब सदर राजकिशोर सिंह, नाथनगर के जिया उररहमान, भाजयुमो जिला सदर सोमनाथ शर्मा समेत दीगर ओहदेदार अलग-अलग खेमे में बंट कर जीत हार की बहस कर रहे थे। पास ही खड़े कुछ पुलिस के जवान और शाहनवाज हुसैन के बॉडी गार्ड भी उनकी हार पर यकीन नहीं कर पा रहे थे।

वे भी एक दूसरे से पूछ रहे थे क्या सच में साहब हार गये हैं। हार के बाद पैदल जा रहे नवगछिया जिला सदर सुबोध सिंह कुशवाहा ने सिर्फ इतना कहा कि अब जो आवाम ने फैसला दिया है उसे तो कुबूल करना ही होगा। नाथनगर, पीरपैंती व बिहपुर से लीड ने बुलो मंडल को जीत दिलायी है।

खातून कारकुनान की टोली भी बहस कर मायूस कुन जा रही थी और कह रही थी कि हो गया ना। बहुत बार कहे थे कि इलाक़े में हालत ठीक नहीं है पर हमारी बात ही किसी ने नहीं मानी। हार के बाद वोट गिनती सेंटर से निकल कर शाहनवाज हुसैन शाम 06:50 में अपने गाड़ी के पास आये और सिर्फ इतना कहा कि बुलो मंडल लीड कर रहे थे तो इसमें आगे क्या कहना है। इसके बाद वे अपने गाड़ी से वहां से घर के लिए निकल गये।

TOPPOPULARRECENT