Monday , July 23 2018

शहरीयों के तहफ़्फ़ुज़ के लिए शाम में नो फ़्लाई ज़ोन की ज़रूरत है

तुर्की के वज़ीरे आज़म ने बताया है कि दौलते इस्लामीया और शामी फ़ौजीयों से बच कर भागने वाले शहरीयों के तहफ़्फ़ुज़ के लिए तुर्की एक-बार फिर से शुमाली शाम में नो फ़्लाई ज़ोन के क़ियाम की कोशिश करेगा।

अहमद दाऊद ओग़लो ने कहा कि शाम की जंग में बेघर होने वाले अफ़राद के लिए वो अमरीका के साथ मिलकर महफ़ूज़ इलाक़े के क़ियाम के लिए काम करेंगे।

जबकि वाशिंगटन ने तुर्की के अमरीका के साथ मिलकर शाम में सेफ ज़ोन के क़ियाम के मंसूबे पर सवाल उठाया है। अमरीकी वज़ारते ख़ारजा के एक तर्जुमान (मार्क टोनर) ने कहा कि अमरीका के तआवुन का मर्कज़ दौलते इस्लामीया को इस इलाक़े से निकालने की मुसलसल कोशिश पर है।

इलाक़े में तहफ़्फ़ुज़ फ़राहम करने के लिए तुर्की ने फ़ौज भेजने से इनकार भी नहीं किया ताहम उन्होंने नाम निहाद दौलते इस्लामीया और दूसरे शिद्दत पसंद ग्रुप्स की इमदाद से इनकार किया है।

TOPPOPULARRECENT