Friday , December 15 2017

शहरी हवाबाज़ी मुल्क में इलाक़ों को मरबूत करने कोशां

हिंदुस्तानी शहरी हवाबाज़ी की जानिब से इलाक़ाई तौर पर मरबूत करने के लिए एक ईको सिस्टम तैयार करते हुए इस शोबे में एक इन्क़िलाब की तैयारी की जा रही है। हुकूमत रियासती और मर्कज़ी हुकूमत की इश्तिराकी काविशों से इलाक़ों को मरबूत करने के लि

हिंदुस्तानी शहरी हवाबाज़ी की जानिब से इलाक़ाई तौर पर मरबूत करने के लिए एक ईको सिस्टम तैयार करते हुए इस शोबे में एक इन्क़िलाब की तैयारी की जा रही है। हुकूमत रियासती और मर्कज़ी हुकूमत की इश्तिराकी काविशों से इलाक़ों को मरबूत करने के लिए मुल्क भर में 50 कम लॉगती एयरपोर्ट्स क़ायम करने के अमल में है।

एफ आई सी सी आई के ज़ेरे एहतेमाम, एयर कनेक्टीविटी में इज़ाफ़ा, के ज़ेरे उनवान मुनाक़िदा सेमीनार के इफ़्तिताही सेशन से ख़िताब करते हुए अशोक लावासा, सेक्रेट्री शहरी हवाबाज़ी ने ये बात बताई। और कहा कि गुज़िश्ता दही में हिंदुस्तानी शहरी हवाबाज़ी के शोबा में तरक़्क़ी हुई और उस में आम आदमी तक पहुंचा गया।

कम ख़र्च एयर लाईन्स के दौर से अब कम लॉगती एयरपोर्ट्स क़ायम करने पर तवज्जा मबज़ूल की जा रही है और इस शोबे में ऑप्रेटिंग के ज़्यादा अख़राजात को भी कम किया जा रहा है। उन्हों ने इस शोबा को दर्पेश चैलेन्जेस, ख़तरात, एयर ट्रैफिक सिस्टम के मैनेजमेंट, एम आर ओ सर्विसेस, टेक्नोलॉजीज़, इंटरनेशनल एवीएशन इंडस्ट्री पर तफ़सीली रौशनी डाली।

TOPPOPULARRECENT