Thursday , December 14 2017

शहीद के परिवार को सरकार द्वारा दिया गया चेक बाउंस हो गया

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के माछिल सेक्टर में भारतीय सेना के एक जवान मनोज शहीद हो गए, उसके परिजनों को सरकार ने बतौर मुआवजा 1 लाख 88 हजार 520 रूपए का चैक दिया था जो बाउंस हो गया. पिछले साल 22 नवंबर को यह चैक सेना की तरफ से शहीद के परिजनों को दिया गया था.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

पड़ताल डॉट कॉम के अनुसार शहीद के परिवार का कहना है कि जब मैंने चेक को स्थानीय बैंक में जमा किया तो कुछ दिनों बाद बैंक कर्मचारियों ने सैन्य अफसर के साइन मैच नहीं होने का बताया, कहा कि ऐसे में भुगतान नहीं हो सकता.

यूपी के गाजीपुर जिले से संबंध रखने वाले शहीद जवान के परिजनों के काफी कोशिश के बाद स्थाानीय यूनियन बैंक ने आश्वा सन दिया कि चेक वापस जमा कराओ, यूनिट के जम्मू -कश्मीकर वाली शाखा में चेक भेज देंगे, जहां से क्लियर हो जाएगा। परिजनों के अनुसार 3 फरवरी को यह चैक दोबारा से यूनियन बैंक में चेक जमा किया गया लेकिन आजतक न तो पैसे मिले और न ही चेक वापस किया गया।

आपको बता दें कि शहीद के परिवार की हालत दयनीय स्थति में पहुँच गयी है।परिवार को इस समय मदद की आवश्यकता है। शहीद की पत्नी का कहना है कि मालूम नहीं कि हमे कोई मदद मिलेगी भी या नहीं। जो चेक सेना की तरफ से आया था उससे उम्मीद थी लेकिन उसका कोई अता-पता नहीं चल रहा।

उल्लेखनीय है कि एक ऐसा ही मामला बिहार के शेखपुरा में पेश आया है,छत्तीसगढ़ के सुकमा हमले में सीआरपीएफ जवान रंजीत कुमार नक्सली हमले में शहीद हो गए थे, परिजनों को बिहार सरकार ने बतौर सहायता 5 लाख का चेक दिया था। जो बाउंस हो गया.

TOPPOPULARRECENT