Monday , December 18 2017

शादीशुदा जिंदगी का पासपोर्ट बन सकता है आधार कार्ड

नई दिल्ली। आज के दौर में मैट्रिमोनियल साइट्स यानी शादी के लिए शरीक ए हयात यानी पार्टनर तलाशने में मदद करने वाली साइट्स पर अपने बारे में सब कुछ मालूमात डाल देते हैं जिससे अपना मनचाहा साथी पाने में कुछ हद तक मालूमात हासिल हो जाती है

नई दिल्ली। आज के दौर में मैट्रिमोनियल साइट्स यानी शादी के लिए शरीक ए हयात यानी पार्टनर तलाशने में मदद करने वाली साइट्स पर अपने बारे में सब कुछ मालूमात डाल देते हैं जिससे अपना मनचाहा साथी पाने में कुछ हद तक मालूमात हासिल हो जाती है लेकिन अब आप अगर शादी करना चाहते हैं तो जल्द ही अपना आधार कार्ड बनवा लीजिए क्योंकि ये अब आपकी शादीशुदा जिंदगी का पासपोर्ट बन सकता है।

सरकार ने सभी मैट्रिमोनियल साइट्स यानी शादी के लिए शरीक ए हयात तलाशने में मदद करने वाली साइट्स को लोगों की प्रोफाइल की हकीकत जांचने को कहा है। खातून और बच्चो की तरक्कियाती की वज़ीर मेनका गांधी ने यह पहल की है।

दिल्ली में रेप की हालिया वाकिया को ध्यान में रखते हुए यह कदम उठाया गया है, जिसमें शामिल कैब ड्राइवर का बैकग्राउंड जांचे बगैर उसे ऑनलाइन टैक्सी सर्विस में नौकरी दी गई थी। वज़ीर ने प्रोफाइलों की जांच के लिए आधार कार्ड की जानकारी के इस्तेमाल की सलाह दी है।

अगले साल के शुरू तक शादी-ब्याह कराने वाली सभी साइट्स को इस नियम पर अमल करना होगा। मेनका ने फर्जी प्रोफाइल पर सख्त कार्रवाई करने की भी बात कही है। वज़ारत के ज़राये ने बताया कि फिलहाल इन साइट्स पर प्रोफाइल बनाने के लिए सिर्फ मोबाइल नंबर की जरूरत होती है।

वज़ारत के एक सीनियर आफीसर ने बताया, यह मुनासिब नहीं है। सैक़डों लोग हर महीने मैट्रिमोनी साइट्स पर खुद को रजिस्टर करते हैं और ऐसे मामले तेजी से बढ रहे हैं, जहां दुल्हे की तलाश कर रहीं लडकियां ठगी का शिकार होती हैं। कई ऐसे मर्द होते हैं, जिनके अलग-अलग साइट्स पर कई अकाउंट होते हैं। आधार कार्ड जरूरी करने से प्रोफाइल पर दूल्हे की तस्वीर डालना जरूरी हो जाएगा।

इससे मनचलों और खुद को सिंगल दिखाने वाले शादीशुदा लोगों पर लगाम कसी जा सकेगी। सेक्युरिटी ओहदेदारो का भी कहना है कि वज़ारत के खदशात नामुनासिब नहीं हैं।

दिल्ली पुलिस के एक आफीसर ने बताया कि इस तरह की साइट्स पर मर्दो की तरफ से गलत पहचान बताने से जुडी कई शिकायतें आती रहती हैं। उन्होंने बताया, हाल में हमने ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया, जिसकी तीन अहम मैरिज वेबसाइट्स पर प्रोफाइल थी। उसने 1,000 से भी ज्यादा ख्वातीन को रिक्वेस्ट भेज रखा था और वह कम से कम 30 ख्वातीन के राबिते में था।

वह कुछ से रकम ऐठ रहा था, जबकि बाकी की तस्वीरें मंगा रखी थीं।

TOPPOPULARRECENT