Monday , December 18 2017

शादी मुबारक स्कीम के लिए दफ़्तर सियासत में हेल्प डेस्क

ग़रीब अक़लियती ख़ानदानों की लड़कीयों की शादी के मौके पर इमदाद से मुताल्लिक़ शादी मुबारक स्कीम से इस्तेफ़ादा के लिए रोज़नामा सियासत ने हेल्प् डेस्क के क़ियाम का फ़ैसला किया है।

ग़रीब अक़लियती ख़ानदानों की लड़कीयों की शादी के मौके पर इमदाद से मुताल्लिक़ शादी मुबारक स्कीम से इस्तेफ़ादा के लिए रोज़नामा सियासत ने हेल्प् डेस्क के क़ियाम का फ़ैसला किया है।

अहाता दफ़्तर रोज़नामा सियासत ने ये हेल्प् डेस्क क़ायम किया गया जहां ना सिर्फ़ स्कीम से इस्तेफ़ादा के लिए रहनुमाई की जा रही है बल्कि ऑनलाईन दरख़ास्तों के इदख़ाल की सहूलत फ़राहम की गई है।

डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर मुहम्मद महमूद अली ने रोज़नामा सियासत की इस कोशिश का ख़ौरमक़दम किया और कहा कि जिस तरह स्कालरशिप और दुसरे शोबों में रोज़नामा सियासत ख़िदमात अंजाम दे रहा है, इसी तरह शादी मुबारक स्कीम के सिलसिले में अक़लियतों की रहनुमाई क़ाबिल-ए-क़दर है।

उन्होंने कहा कि इस स्कीम से आइन्दा चार माह में हुकूमत 20,000 से ज़ाइद ग़रीब ख़ानदानों को फ़ायदा पहुंचाना चाहती है। उन्होंने ज़ाहिद अली ख़ां से इज़हार-ए-तशक्कुर किया और उम्मीद ज़ाहिर की के अक़लियती ग़रीब ख़ानदान इस स्कीम से बेहतर तौर पर इस्तेफ़ादा करते हुए लड़कीयों की शादी के मसले को हल करेंगे।

डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर ने कहा कि अक़लियतों में लड़कीयों की शादी एक अहम मसला बन चुकी है और जहेज़ और लेन देन की लानत ने वालिदैन के लिए मसाइल में इज़ाफ़ा कर दिया। इन हालात में चीफ़ मिनिस्टर चन्द्रशेखर राव‌ ने इस स्कीम के आग़ाज़ का फ़ैसला किया ताकि शादीयों का मसला हल हो और इस रक़म से ग़रीब ख़ानदान छोटे कारोबार के आग़ाज़ के ज़रीये ख़ुद मुकतफ़ी बन सकीं।

शादी मुबारक स्कीम के सिलसिले में अवाम में शऊर बेदारी को नागुज़ीर क़रार देते हुए डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर ने कहा कि दुसरे ग़ैर सरकारी इदारों को सियासत की तक़लीद करते हुए अवाम की रहनुमाई के लिए आगे आना चाहीए।

सियासत हेल्प् डेस्क पर स्कीम के लिए दरकार सर्टीफिकटस और उनके हुसूल के तरीके के सिलसिले में भी मुकम्मिल रहनुमाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि स्कीम की शराइत इंतिहाई आसान है और चंद दस्ताविज़ात की पीशकशी के ज़रीये कोई भी ग़रीब ख़ानदान इमदाद का मुस्तहिक़ बन सकता है।

हुकूमत चार माह में इस स्कीम पर अमल आवरी को यक़ीनी बनाने की कोशिश करेगी। उन्होंने कहा कि ज़िला कलेक्टरस के साथ बहुत जल्द मीटिंग तलब किया जाएगा जिस में सर्टीफिकट की इजराई के सिलसिले में हिदायात जारी की जाएंगी।

एम आर औज़ और आर डी औज़ को हिदायत दी गई हैके वो आसानी के साथ सर्टीफिकट जारी करें। डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर स्कीम पर अमल आवरी का जायज़ा लेने के लिए असेंबली मीटिंग के बाद अज़ला का दौरा करेंगे।

उन्होंने बताया कि इस स्कीम के लिए आइन्दा साल बजट में इज़ाफ़ा किया जाएगा। सियासत हेल्प् डेस्क पर ज़ईफ़ों , बेवाओं और
माज़ूर अफ़राद को पेंशन के हुसूल के सिलसिले में रहनुमाई का इंतेज़ाम किया गया है।

TOPPOPULARRECENT