Friday , January 19 2018

शादी में सादगी मुहिम के मुसबत नताइज

शादीयों में इसराफ़-ओ-बेजा रसूमात के ख़िलाफ़ मुदीर रोज़नामा सियासत जनाब ज़ाहिद अली ख़ां साहिब की तरफ से शुरू करदा मुहिम शादी में सादगी ना सिर्फ़ हैदराबाद बल्कि अज़ला में भी इस के मुसबत नताइज बरामद होरहे हैं।

शादीयों में इसराफ़-ओ-बेजा रसूमात के ख़िलाफ़ मुदीर रोज़नामा सियासत जनाब ज़ाहिद अली ख़ां साहिब की तरफ से शुरू करदा मुहिम शादी में सादगी ना सिर्फ़ हैदराबाद बल्कि अज़ला में भी इस के मुसबत नताइज बरामद होरहे हैं।

शादीयों में इसराफ़ पुरतकल्लुफ़ खाने के इंतेज़ामात से लड़की वाले ज़ेर बार होरहे हैं। एसे में उम्मत की दौलत के सही मुसर्रिफ़ को यक़ीनी बनाने की ग़रज़ से शुरू करदा मुहिम से फुज़ूलखर्ची , घोड़े जोड़े, लेन देन की लानत से इजतिनाब करने में आमता उलमुस्लिमीन में हौसला अफ़्ज़ा-ए-नताइज हासिल होरहे हैं। रियासत भर में इस मुहिम का ज़बरदस्त ख़ौरमक़दम कररहे हैं।

लेन देन-ओ-दीगर रसूमात से गुरेज़ करते हुए आज ज़िला मुस्तक़र पर वाक़्ये मस्जिद रहमानीह में शादी अंजाम पाई। मौज़फ़ तहसीलदार‍ओ‍ सेक्रेटरी अंजुमन तरक़्क़ी उर्दू नलगेंडा ख़्वाजा फ़रीद उद्दीन के फ़र्ज़ंद मुहम्मद मोतसिम ज़माँ का अक़द दुख़तर मुहम्मद जमाल शरीफ़ के साथ सादगी के साथ अंजाम पाया।

मौलाना मुहम्मद अबदुलबसीर क़ासिमी ने ख़ुतबा निकाह पढ़ा। अक़द के मौके पर नक़द महर की रक़म अदा करदी गई। इस मौके पर दोस्त अहबाब, अज़ीज़-ओ-क़ारिब, उल्मा, सरकारी ओहदेदार, मुख़्तलिफ़ शोबा हियात से ताल्लुक़ रखने वाले मोअज़्ज़िज़ीन की कसीर तादाद मौजूद थी।

TOPPOPULARRECENT