Tuesday , September 18 2018

शामी बाग़ी यरमूक पनाह गुज़ीन कैंप से निकल जाएंगे

इत्तिलाआत के मुताबिक़ ख़ुद को दौलते इस्लामीया कहलाने वाली शिद्दत पसंद तंज़ीम और उनके ख़ानदान अक़्वामे मुत्तहदा के सालिसी मुआहिदे के तहत शाम के दारुल हुकूमत दमिश्क़ के जुनूब में वाक़े फ़लस्तीनी पनाह गुज़ीन कैंप यरमूक के इंदौरनी और बैरूनी इलाक़ों से निकल सकते हैं।

अगर्चे ये मुआहिदा अभी नाज़ुक मरहले में ही है ताहम इस में शामी हुकूमत और इस के बाग़ी जंगजू शामिल हैं। इस मुआहिदे के तहत दौलते इस्लामीया के मुताद्दिद शिद्दत पसंदों को उनके मज़बूत गढ़त रका से निकलने का महफ़ूज़ रास्ता दिया जा सकता है।

इस मुआहिदे का मक़सद फ़लस्तीनी पनाह गुज़ीन यरमूक कैंप को महफ़ूज़ बनाना है ताकि 18,000 अफ़राद जिनके बारे में ख़्याल किया जाता है कि वो यहां फंसे हुए हैं को इमदाद दी जा सके।

TOPPOPULARRECENT