शामी हुकूमत का दोमा पर हमला जंगी जुर्म है – अक़वामे मुत्तहिदा

शामी हुकूमत का दोमा पर हमला जंगी जुर्म है – अक़वामे मुत्तहिदा
Click for full image

अक़वामे मुत्तहिदा के सियासी शोबे के सरब्राह ने शाम के दारुल हुकूमत दमिश्क़ के नवाह में वाक़े शहर दोमा पर गुज़िश्ता इतवार को असद हुकूमत के फ़िज़ाई हमले को जंगी जराइम क़रार दिया है।

इस फ़िज़ाई हमले में एक सौ अफ़राद हलाक और दोसौ से ज़्यादा ज़ख़्मी हो गए थे। जेफ्रे फ़ेल्ट मैन ने अक़वामे मुत्तहिदा की सलामती कौंसिल में बुध को बयान देते हुए कहा है कि दोमा पर फ़िज़ाई हमला एक और जंगी जुर्म है और इस के ज़िम्मे दारों को एहतिसाब के कटहरे में लाया जाना चाहिए।

सलामती कौंसिल के बंद कमरे के इजलास में शाम की सूरते हाल पर ग़ौर किया जा रहा है और उसने तहरीर दोमा में एक मसरूफ़ बाज़ार पर तबाहकुन बमबारी की मुज़म्मत में बयान जारी नहीं किया है।

Top Stories