Monday , December 11 2017

शामी हुकूमत के हाथों क़ैदीयों को सज़ाए मौत

हुकूमत शाम की अफ़्वाज ने कम अज़ कम 9 क़ैदीयों को शहर अदलीब में सज़ाए मौत दे दी जब कि दौलते इस्लामीया के जंगजूओं ने सुबाई दारुल हुकूमत पर क़ब्ज़ा कर लिया।

हुकूमत शाम की अफ़्वाज ने कम अज़ कम 9 क़ैदीयों को शहर अदलीब में सज़ाए मौत दे दी जब कि दौलते इस्लामीया के जंगजूओं ने सुबाई दारुल हुकूमत पर क़ब्ज़ा कर लिया।

शामी रसदगाह बराए इंसानी हुक़ूक़ ने कहा कि कम अज़ कम 9 क़ैदीयों की नाशें शुमाल मग़रिबी अदलीब से दस्तयाब हुईं जब कि अलक़ायदा की शाम में राबिता रखने वाली तंज़ीम अल नसर महाज़ ने कुछ ही देर बाद अदलीब पर क़ब्ज़ा कर लिया। समझा जाता है कि उन अफ़राद को अदलीब पर क़ब्ज़ा से पहले इन क़ैदीयों को क़ैदख़ाने में ही फांसी पर लटका दिया था।

दरीं अस्ना अल नसरा महाज़ ने ट्वीटर पर एक वीडीयो शाय किया है जिस में महाज़ के जंगजूओं को अदलीब के क़ैदख़ाने से उन नाशों को बरामद करते हुए दिखाया गया है।

9 मर्द क़ैदीयों की नाशें एक छोटे से तारीक कमरे से दस्तयाब हुईं उन में से पाँच पहलू बा पहलू पड़ी हुई थीं जब कि कई नाशें ख़ून में लत-पथ थी। ये वाज़ेह नहीं हो सका कि उन अफ़राद को कैसे क़त्ल किया गया।

किसी का हवाला दिए बगै़र अफ़्वाज ने अदलीब पर क़ब्ज़ा कर लिया। मुत्तहदा अफ़्वाज का कहना है कि उन्हें एतेमाद है कि वो शहरीयों का तहफ़्फ़ुज़ करेंगे और बैनुल अक़वामी क़ानून का एहतेराम करेंगे।

TOPPOPULARRECENT