Tuesday , December 12 2017

शामी फ़िज़ाईया की हलब में बमबारी से मज़ीद 42 हलाकतें

शामी फ़िज़ाईया ने कल शुमाली शहर हलब में एक शाहराह पर कारों के क़ाफ़िले पर बमबारी की है जिस के नतीजे में 42 अफ़राद हलाक हो गए हैं। बर्तानिया में क़ायम शामी ऑब्ज़र्वेट्री बराए इंसानी हुक़ूक़ ने बताया है कि शामी फ़िज़ाईया के जंगी तय्यारों न

शामी फ़िज़ाईया ने कल शुमाली शहर हलब में एक शाहराह पर कारों के क़ाफ़िले पर बमबारी की है जिस के नतीजे में 42 अफ़राद हलाक हो गए हैं। बर्तानिया में क़ायम शामी ऑब्ज़र्वेट्री बराए इंसानी हुक़ूक़ ने बताया है कि शामी फ़िज़ाईया के जंगी तय्यारों ने हलब के इलाक़े में हानानू में तबाहकुन बैरल बम फेंके हैं। इस हमले में मरने वालों की तादाद बढ़ कर ब्यालिस हो गई है।

शामी फ़िज़ाईया ने गुज़िश्ता एक हफ़्ते के दौरान मुतअद्दिद मर्तबा ख़ाम बैरल बमों से हलब के मुख़्तलिफ़ इलाक़ों को निशाना बनाया है जिस के नतीजे में सैकड़ों अफ़राद मारे जा चुके हैं।

शहरी सहाफ़ीयों के नेटवर्क पर मुश्तमिल हलब मीडिया सेंटर ने बताया है कि हानानू में शामी जंगी तय्यारों ने एक शाहराह पर कारों के एक क़ाफ़िले पर बम फेंके
हैं।

शामी सदर बशारुल असद की वफ़ादार फ़ौज बाग़ीयों के ख़िलाफ़ लड़ाई में वक़्तन फ़वक़्तन फ़िज़ाई क़ुव्वत का इस्तेमाल करती रहती है और वो हलब में खासतौर पर बाग़ीयों के ज़ेरे क़ब्ज़ा इलाक़ों में गुज़िश्ता कई हफ़्तों से बमबारी कर रही है।

लेकिन वो शहर के मशरिक़ी और वस्ती हिस्सों पर दोबारा क़ब्ज़ा में नाकाम रही है। इन इलाक़ों में बाग़ीयों ने 2012 के वस्त में क़ब्ज़ा कर लिया था।

TOPPOPULARRECENT