Wednesday , January 24 2018

शाम के ख़िलाफ़ सिफ़ारती मुहिम में शिद्दत पैदा करने हलारी क्लिन्टन का ज़ोर

अमरीकी वज़ीर ख़ारिजा (विदेश मंत्री) हलारी क्लिन्टन ने आज शाम में सदर बशारुल असद की हुकूमत से इक़तिदार की मुकम्मल मुंतक़ली की हिमायत की हालाँकि रूस और चीन इस के मुख़ालिफ़ हैं।

अमरीकी वज़ीर ख़ारिजा (विदेश मंत्री) हलारी क्लिन्टन ने आज शाम में सदर बशारुल असद की हुकूमत से इक़तिदार की मुकम्मल मुंतक़ली की हिमायत की हालाँकि रूस और चीन इस के मुख़ालिफ़ हैं।

कल रात अरब और योरोपी वुज़राए ख़ारिजा (विदेश मंत्री)के साथ हिक्मत-ए-अमली पर मबनी सेशन के बाद जुमेरात की सुबह तुर्क क़ाइदीन के साथ मीटिंग मुनाक़िद करते हुए हलारी ने अपनी तवज्जा अक़वाम-ए-मुत्तहिदा और रूस और चीन की जानिब से मुख़ालिफ़त पर मर्कूज़ की ।

उन्हों ने कहा कि सिर्फ हुकूमत की मुकम्मल तबदीली से ही शाम के बोहरान का हल मुम्किन है । उन्हों ने कहा कि उबूरी हुकूमत साफ़ और शफ़्फ़ाफ़ इंतिख़ाबात के इनइक़ाद को यक़ीनी बनाए। अमरीकी वज़ीर-ए-ख़ारजा ने शाम में तमाम फ़रीक़ैन से जंग बंदी पर अमल दरआमद की अपील की ।

इजलास में शामिल फ़्रांस और बर्तानिया के वुज़राए ख़ारिजा (विदेश मंत्री)ने शाम के बारे में आलमी कान्फ़्रैंस में 5 रूसी तजावीज़ को रद्द करदिया । दूसरी जानिब रूस के वज़ीर-ए-ख़ारजा ने तजवीज़ पेश करते हुए कहा कि आलमी कान्फ़्रैंस में ईरान को भी शामिल किया जाय।

TOPPOPULARRECENT