Monday , December 18 2017

शाम के शहर कोबानी में शदीद लड़ाई, 4 ख़ुदकुश हमले, 50 अफ़राद हलाक

तुर्की की सरहद के साथ शामी क़स्बा कोबानी में फिर से शदीद लड़ाई शुरू हो गई है जहां पर कुर्द फ़ौज से सितंबर से दौलते इस्लामीया के जंगजूओं के ख़िलाफ़ बरसरे पैकार है।

तुर्की की सरहद के साथ शामी क़स्बा कोबानी में फिर से शदीद लड़ाई शुरू हो गई है जहां पर कुर्द फ़ौज से सितंबर से दौलते इस्लामीया के जंगजूओं के ख़िलाफ़ बरसरे पैकार है।

दौलते इस्लामीया ने कम अज़ कम चार ख़ुदकुश हमले किए जिस में इत्तिलाआत के मुताबिक़ गुज़िश्ता चौबीस घंटों में कम से कम 50 दौलते इस्लामीया के जंगजू हलाक हो गए।

पहला हमला तुर्की की सरहद पर पार जाने के रास्ते के क़रीब हुआ। ये इलाक़े में ताज़ा लड़ाई छिड़ जाने का पहला वाक़िया है। कुर्द ज़राए का कहना है कि ख़ुदकुश बमबार तुर्की से आया, लेकिन तुर्क ओहदेदार उस की तरदीद करते हैं।

ख़ुदकुश हमले के बाद वहां और क़स्बे के जुनूब मग़रिबी इलाक़े में कुर्द फ़ौज और दौलते इस्लामीया के दरमयान झड़पें हुईं। बर्तानिया में क़ायम सीरियन ऑब्ज़र्वेट्री फ़ॉर ह्यूमन राईट्स ने कहा कि तीन मज़ीद ख़ुदकुश हमले किए गए, एक ख़ुदकुश बमबार ने अपने आप को उड़ाया जबकि दो ख़ुदकुश हमले गाड़ीयों के ज़रीए किए गए।

इत्तिलाआत के मुताबिक़ लड़ाई में जैसे ही तेज़ी आई दौलते इस्लामीया जंगजूओं की मदद के लिए टैंक भी लाए गए। ख़्याल रहे कि शाम और इराक़ के वसीअ इलाक़े पर दौलते इस्लामीया का क़ब्ज़ा है।

TOPPOPULARRECENT