शाम दाईश के ख़िलाफ़ तआवुन पर मुत्तफ़िक़ हो सकता है – कैरी

शाम दाईश के ख़िलाफ़ तआवुन पर मुत्तफ़िक़ हो सकता है – कैरी

अमरीका के वज़ीरे ख़ारिजा जॉन कैरी ने कहा है कि मख़सूस हालात में ये मुम्किन है कि शामी सदर बशारुल असद के इक़्तेदार छोड़ने से पहले शामी हुकूमत और बाग़ी अफ़्वाज अपने आपको दौलते इस्लामीया कहलाने वाली तंज़ीम के ख़िलाफ़ तआवुन करने पर आमादा हो जाएं।

जॉन कैरी के मुताबिक़ बशारुल असद का मुस्तक़बिल वाज़ेह होने की सूरत में शायद बाग़ी अफ़्वाज दौलते इस्लामीया के ख़िलाफ़ तआवुन पर आमादा हो जाएं। उनका ये भी कहना है कि सूरते हाल बहुत ज़्यादा मुश्किल है क्योंकि उस का ये मतलब भी लिया जा सकता है कि हम बशारुल असद को इक़्तेदार में लाने के लिए दख़ल अंदाज़ी कर रहे हैं जो मुकम्मल तौर पर नाक़ाबिले क़ुबूल है।

Top Stories