Monday , December 18 2017

शाम पर इज़रायली हमला बाएं बाज़ू की तरफ‌ से मज़म्मत

सी पी आई एम ब्यूरो ने कहा कि इज़‌राईल शाम के तनाज़े में दख़ल अंदाज़ी करना चाहता है ताकि इस मुल्क को ग़ैर मुस्तहकम किया जाये और अपने तो सेवी अज़ाइम की अमरीका और नाटो की ताईद से तकमील की जाये ।

सी पी आई एम ब्यूरो ने कहा कि इज़‌राईल शाम के तनाज़े में दख़ल अंदाज़ी करना चाहता है ताकि इस मुल्क को ग़ैर मुस्तहकम किया जाये और अपने तो सेवी अज़ाइम की अमरीका और नाटो की ताईद से तकमील की जाये ।

सी पी आई की मर्कज़ी मोतमदी ने कहा कि इज़‌राईल ने शाम पर बला इश्तिआल हमला किया है । इसका दावे है कि वो लुबनान में मोहलिक हथियारों की सरबराही के इंसिदाद का ख़ाहां था ।

सी पी आई ने मांग‌ किया कि बेन-उल-अक़वामी क़ानून की ऐसी खुली ख़िलाफ़ अरज़ीयों का इंसिदाद किया जाये । अक़वाम-ए-मुत्तहिदा की सलामती कौंसल चाहीए कि वो इस पूरे इलाक़े को जंग के शोलों की गिरिफ़त में आने से बचाने केलिए फ़ौरी इक़दामात करे ।

TOPPOPULARRECENT