शाम में उबूरी हुकूमत का मुतालिबा

शाम में उबूरी हुकूमत का मुतालिबा
बैन-उल-अक़वामी क़ासिद ने शाम की ख़ानाजंगी ख़त्म करने के लिए आज उबूरी हुकूमत तशकील देने का मुतालिबा किया जिसे मुकम्मल इंतिज़ामी इख़्तयारात हासिल होना चाहीए। ये हुकूमत इंतिख़ाबात के इनइक़ाद तक बरक़रार रहनी चाहीए।

बैन-उल-अक़वामी क़ासिद ने शाम की ख़ानाजंगी ख़त्म करने के लिए आज उबूरी हुकूमत तशकील देने का मुतालिबा किया जिसे मुकम्मल इंतिज़ामी इख़्तयारात हासिल होना चाहीए। ये हुकूमत इंतिख़ाबात के इनइक़ाद तक बरक़रार रहनी चाहीए।
क़ासिद लखदर बराहिमी ने कहा कि वो किसी की ताईद या मुख़ालिफ़त नहीं कर रहे हैं। उन्हें सिर्फ़ शाम में अमन की बहाली और मुल्क के इंतिज़ाम से दिलचस्पी है। जिनेवा मंसूबे में भी मुत्तहदा बाइख़तियार हुकूमत के क़ियाम का मुतालिबा किया गया है

Top Stories