Monday , December 18 2017

शाम में क़ियाम अमन के लिए रूस की नई तजवीज़

रूस ने शाम में अक़वाम-ए-मुत्तहिदा के जंग बंदी मुबस्सिर मिशन में मज़ीद तीन माह की तौसीअ(विसतार) के लिए सलामती कौंसल के में एक नई क़रारदाद का मुसव्वदा तक़सीम किया है जबकि इराक़ में मुतय्यन शामी सफ़ीर ने हुकूमत मुख़ालिफ़ीन के ख़िलाफ़ जारी कार्यवाईयों पर बतौर-ए-एहतजाज अपना सिफ़ारती ओहदा छोड़ दिया है।

शामी अपोज़ीशन ज़राए ने नवाफ़ उल्फ़ा रस के मुनहरिफ़ होने की इत्तिला(खबर) दी है । वो शाम के पहले सिफ़ारत कार हैं जिन्हों ने सदर बशारुल असद की हुकूमत का साथ छोड़ा है हालाँकि वो मुल़्क की स्कियोरटी अहलकार(अधिकारी) के क़रीब समझे जाते हैं।।

ख़्याल रहे कि शामी सदर के एक और क़रीबी साथी ब्रिगेडीयर जनरल मुनाफ़ तलास भी चंद रोज़ क़ब्ल बशारुल असद का साथ छोड़कर बैरून-ए-मुल्क चले गए थे।

TOPPOPULARRECENT