Monday , December 11 2017

शाम में जश्न मीलाद-उन्नबी ( स०अ०व०) की शानदार तक़ारीब

दमिश्क़, 25 जनवरी: (ए एफ़ पी) शाम के सदर बशार अल सअद ने आज मुल्क भर में मनाए जाने वाले जश्न मीलाद-उन्नबी ( स०अ०व्०) की शानदार तक़ारीब के मौक़ा पर दमिश्क़ के शुमाली ज़िला में एक मस्जिद में नमाज़ अदा की और अमन के लिए ख़ुसूसी दुआ की।

दमिश्क़, 25 जनवरी: (ए एफ़ पी) शाम के सदर बशार अल सअद ने आज मुल्क भर में मनाए जाने वाले जश्न मीलाद-उन्नबी ( स०अ०व्०) की शानदार तक़ारीब के मौक़ा पर दमिश्क़ के शुमाली ज़िला में एक मस्जिद में नमाज़ अदा की और अमन के लिए ख़ुसूसी दुआ की।

सरकारी टेलीविज़न पर बताया गया है कि बशर अल असद शाम के मुफ़्ती-ए-आज़म अहमद हुसैन के हमराह मस्जिद अलाफ़राम पहुंचे और नमाज़ अदा की। मुफ़्ती-ए-आज़म अहमद हुसैन शाम के आला तरीन सुन्नी मज़हबी अथॉरीटी के हामिल शख़्सियत हैं। उनके हमराह वज़ीर मज़हबी इंडो मिनिट्स भी थे।

मुहम्मद अबदुल सत्तार ने क़ब्लअज़ीं नमाज़ जुमा के मौक़ा पर मसाजिद में लाखों की तादाद में नमाज़ अदा करने की अपील की थी ताकि मुल्क में सलामती की सूरत-ए-हाल बहाल हो सके। यहां मार्च 2011से हुकूमत के ख़िलाफ़ जंगजवाना तहरीक शुरू की है। शाम की मसाजिद में नमाज़ जुमा के बाद दुआ का ख़ास एहतिमाम किया गया और पूरे मुल्क भर में सलामती और अवामी तहफ़्फ़ुज़ बहाल होने के लिए दुआ की गई जबकि बशर अल असद के मुख़ालिफ़ीन ने इस मौक़ा पर मुख़ालिफ़ हुकूमत रैलीयां निकालें। मस्जिद अलाफ़राम में नमाज़ अदा करने के बाद मुस्कुराते हुए हुजूम के ख़ौरमक़दम का जवाब देकर रवाना हुए।

TOPPOPULARRECENT