Monday , December 11 2017

शारा पोवा और नडाल ने इंडियन वेल्स ख़िताब जीत लिए

इंडियन वेल्स (अमेरीका) 19 मार्च : राफ़ल नडाल ने पहले सीट में नाकामी और दूसरे सीट में 1-3 से पीछे रहने के बावजूद इंडियन वेल्स के फाईनल में अर्जनटीना के यान मार्टिन डीन पोट्रो को 4-6, 6-3 , 6-4 से शिकस्त देते हुए घुटने की तकलीफ़ के बाइस 7 महीने टेनिस से दूर होने के बाद वापसी करते हुए चौथे टूर्नामेंट में तीसरा ख़िताब हासिल करलिया ।

नडाल ने रवां साल‌ 18 मुक़ाबलों में 17 फ़ुतूहात हासिल की हैं जिस में लगातार‌ 14 मुक़ाबले भी शामिल हैं । वो अपने पसंदीदा किले कोर्ट पर दो ख़ताबात हासिल करने के इलावा एक टूर्नामेंट के फाईनल में हार‌ बर्दाश्त की जबकि चालू सीज़न हार्डकोर्ट पर खेली जाने वाली पहली मास्टर सीरीज़ चम्पिय‌न शिप में कामयाबी हासिल करली है ।

ख़ातून ज़मुरा के फाईनल में मारीया शारा पोवा ने डेनमार्क की कैरोलीन वज़नयाकी को रास्त सीटों में 6-2 , 6-2 से शिकस्त देते हुए रवां साल‌ पहला ख़िताब हासिल करलिया है जैसा कि दो साबिक़ आलमी नंबर एक खिलाड़ियों के दरमयान खेले गए इस फाईनल में शारा पोवा ने अपनी हरीफ़ को बेबस कर दिया था ।

नडाल ने अक्टूबर 2010-ए-टोकीयो में ख़िताब हासिल करने के बाद हार्डकोर्ट पर पहला ख़िताब हासिल किया है और इस दौरान उन्होंने अपने कैरियर की 600 वीं कामयाबी भी हासिल करली । आज जारी करदा ताज़ा तरीन दर्जा बंदी में वो दुबारा चौथे मुक़ाम पर पहुंच चुके हैं ।

नीज़ इंडियन वेल्स में उन्होंने तीसरा ख़िताब हासिल किया है और इस तरह ए टी पी टूर मास्टर्स 1000 में ये उनका 22 वां ख़िताब है जिस के ज़रिया वो राजर फ़ेडरर की फ़ुतूहात में बराबरी करली है । डील पोट्रो जिन्होंने क्वार्टरफाइनल में आलमी नंबर 3 बर्तानवी टेनिस स्टार एंडी मरे और सेमीफाइनल में रवां साल‌ नाक़ाबिल-ए-शिकस्त रहने वाले आलमी नंबर एक नवाक़ जोकोविच को शिकस्त दी थी लेकिन एक ही टूर्नामेंट में सर‍ए‍फेहरिस्त 10 खिलाड़ियों में शामिल तीसरे खिलाड़ी को शिकस्त देने में वो नाकाम रहे ।

क़ब्लअज़ीं 1977-ए-में कोलीरमो वेलास के बाद डील पोट्रो यहां फाईनल में रसाई हासिल करने वाले दूसरे अर्जनटीना के खिलाड़ी साबित हुए ।

TOPPOPULARRECENT