Monday , December 11 2017

शाहनवाज़ जो फरिश्ता बनकर आया।

नयी दिल्ली: कहते हैं ज़िन्दगी का कोई भरोसा नहीं ; कब कोई ऐसा मोड़ आये जो आपकी और आपके आप पास के लोगों की ज़िन्दगी दो पल में बदल दे। कुछ ऐसा ही वाक्य हुआ दिल्ली की एक सड़क पर।

शाहनवाज़ खान जो कि पेशे से टैक्सी ड्राइवर है और UBER टैक्सी चलाता है ने शायद कभी नहीं सोच होगा कि एक दिन उसके साथ ऐसा वाक्या भी होगा। अपनी टैक्सी में रोज़ाना लोगों को उनकी मंज़िल तक छोड़ कर आना शाहनवाज़ की रूटीन है लेकिन बीती रात उसे जिस सवारी ने उसकी टैक्सी बुक की वह एक गर्भवती महिला थी। बबली ने अपने पति के दोस्त की मदद से UBER टैक्सी बुक की थी और गाडी में सफर करने वाली वह अकेली यात्री थी। लेकिन अपनी मंज़िल तक पहुँचते पहुँचते वह अपने बच्चे को शाहनवाज़ की कार में ही जन्म दे चुकी थी।

हुआ यूँ कि महिला जिसका नाम बबली है ने अपने पेट में दर्द के चलते सफदरजंग हॉस्पिटल जाने के लिए टैक्सी बुक की थी लेकिन अंसल प्लाजा के पास के ट्रैफिक सिग्नल पर ही महिला को प्रसव पीड़ा शुरू हो गयी और उसने चिल्लाए हुए कहा कि बच्चा बाहर आ रहा है। शाहनवाज़ जिसको न तो यह पता था की वह उस महिला की मदद कैसे करे और ना ही वह ट्रैफिक की वजह से सिग्नल क्रॉस कर पा रहा था ने अपनी कार में पड़े कपडे उक्त महिला को दिए और जैसा जैसा महिला ने कहा वैसा ही करता चला गया। कुछ ही पलों में महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया जिसको हॉस्पिटल ले जाया गया। डॉक्टर जो पहले शाहनवाज को बच्चे का बाप मान बैठे थे को जब यह पता चला कि वह तो सिर्फ ड्राइवर है उन्होंने शाहनवाज़ को उसके काम के लिए सराहा। और उक्त महिला बबली का कहना था की उसके लिए तो शाहनवाज़ फरिश्ता बन आया है।

TOPPOPULARRECENT