Saturday , December 16 2017

शाहरुख ख़ान को पाकिस्तान भेजने का रिमार्क मज़हका ख़ेज़

हिंदू सेना ने फ़िल्म अदाकर शाहरुख ख़ान का आग का पुतला नज़र-ए-आतिश करके उनकी फिल्मों पर हिंदुस्तान में पाबंदी आयद करने और उन्हें फ़ौरन पाकिस्तान भेजने का जो मांग‌ किया है इस पर सोशलिस्ट फ्रंट, मुस्लिम समाज परिषद और स्मार्ट पार्टी ने

हिंदू सेना ने फ़िल्म अदाकर शाहरुख ख़ान का आग का पुतला नज़र-ए-आतिश करके उनकी फिल्मों पर हिंदुस्तान में पाबंदी आयद करने और उन्हें फ़ौरन पाकिस्तान भेजने का जो मांग‌ किया है इस पर सोशलिस्ट फ्रंट, मुस्लिम समाज परिषद और स्मार्ट पार्टी ने अपने ग़ुस्से का इज़हार करते हुए कहा कि ऐसे समाज दुश्मन अनासिर पर मुल्क मुख़ालिफ़ होने का मुक़द्दमा चला कर फ़ौरी तौर पर जेल में ठूंसा जाये।

सोशलिस्ट फ्रंट आफ़ इंडिया के सदर मुहम्मद आफ़ाक़ ने हुकूमत से मांग‌ किया कि उन लोगों को शनाख़्त करके फ़ौरन जेल भेजा जाये इस वाक़िया की तसावीर भी अख़बारात में शाय होचुकी हैं चुनांचे उनकी गिरफ़्तारी में ज़्यादा वक़्त नहीं लगेगा। मुहम्मद आफ़ाक़ ने कहा कि ऐसे लोग समाज में फ़िर्कावारियत और मज़हबी मुनाफ़िरत को बढ़ावा देने का काम करते हैं।

अगर ऐसे लोगों को सज़ा नहीं मिली तो आगे भी ये लोग ऐसी गिरी हुई और घटिया और मुजरिमाना हरकतें करते रहेंगे। मुहम्मद आफ़ाक़ ने सवाल करते हुए पूछा कि हिंदू सेना कौन होती है जो हिंदुस्तान के शहरी को पाकिस्तान भेजने का मांग‌ कररही है? उन्होंने मज़ीद कहा कि ऐसे ही लोगों ने हिंदुस्तान के टुकड़े टुकड़े करा दिए। अगरचे उस वक़्त भी ऐसी ही ज़हनियत के लोग हुब्बुल-व्तनी का ढोंग कररहे थे और मुल्क के टुकड़े होजाने दिए।

अगर वो सच्चे मुहिब-ए-वतन होते हो कहते कि हम अपने टुकड़े करवा लेंगे लेकिन अपने मुल्क के टुकड़े नहीं होने देंगे। उस वक़्त कांग्रेस भी थी, जन संघ‌ भी और विश्व हिंदू परिषद भी थी उन्होंने क्यों मुल्क के टुकड़े होजाने दिए, ऐसे लोग आज भी मुल्क के टुकड़े करने की पालिसी अपना रहे हैं, कभी मज़हब के नाम पर कभी ज़ात के नाम पर और कभी सूबे के नाम पर तो कभी ज़बान के नाम पर।

अगर उन पर मुकम्मल पाबंदी आयद नहीं की गई तो ये लोग मुल्क की बर्बादी का सबब बनेंगे, हम सभी लोग हुकूमत से मांग‌ करते हैं कि बला ताख़ीर उन पर पाबंदी आइद की जाये। वर्ना सोशलिस्ट फ्रंट आफ़ इंडिया और उसकी मुआविन तंज़ीमें इसके ख़िलाफ़ मुहिम चलाऐंगे और मुज़ाहिरे करेंगे।

TOPPOPULARRECENT