Wednesday , December 13 2017

शाही इमाम ने किया बेगुनाहों की रिहाई का मुतालिबा

नई दिल्ली, 23 मार्च: शाही इमाम मस्जिद फ़तह पूरी दिल्ली मुफ़्ती मुहम्मद मुकर्रम अहमद साहब ने आज जुमा की नमाज़ से पहले ख़िताब में हिन्दुस्तान के मुसलमानों से पुरज़ोर अपील की कि वो उस्वा ए हुसना (पैग़म्बर मुहम्मद स.

नई दिल्ली, 23 मार्च: शाही इमाम मस्जिद फ़तह पूरी दिल्ली मुफ़्ती मुहम्मद मुकर्रम अहमद साहब ने आज जुमा की नमाज़ से पहले ख़िताब में हिन्दुस्तान के मुसलमानों से पुरज़ोर अपील की कि वो उस्वा ए हुसना (पैग़म्बर मुहम्मद स. की जिंदगी के तरीक़े) की पैरवी करें। उन्होंने मर्कज़ी हुकूमत से पुरज़ोर मुतालिबा किया कि बेगुनाहों को जल्द रिहा किया जाए,क्योंकि ये अहम मसला है जो हुक़ूक़े इंसानी के तहफ़्फ़ुज़ और इंसाफ़ से ताल्लुक़ रखता है। वज़ीरे आज़म डा.मनमोहन सिंह और मुहतरमा सोनिया गांधी से बार बार मुतालिबा किया जा रहा है,कि सैंकड़ों बेगुनाह मुसलमान जो जेलों में बंद हैं उन के ख़िलाफ़ पुख़्ता सुबूत भी नहीं हैं,और उन के मुक़द्दमात अदालतों में पेश कर के कार्रवाई भी शुरू नहीं की गई ऐसे लोगों के बारे में हुकूमत मुताल्लिक़ा दफ़ातिर को अहकाम जारी करें,और उन्हें रिहा किया जाये या कम अज़ कम ज़मानत पर रिहा कर दिया जाए।

उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान की कई सयासी पार्टियां जैसे सी पी आई सी पी आई एम एल जे पी जे डीयू आर जे डी एस पी और हिन्दुस्तान की नामवर स्टूडेंट्स तंज़ीमें भी इस मसले में हुकूमत के सामने बार बार अपना मुतालिबा रख चुकी हैं। मारूफ़ सहाफ़ी सीमा मुस्तफा और समाजी कारकुन शबनम हाश्मी भी अपने अपने तौर पर इस हक़ के लिए आवाज़ उठा रहे हैं,लेकिन हुकूमत की तरफ़ से ख़ामोशी अफ़सोसनाक है।

शाही इमाम ने अमरीका के सदर ओबामा के हालिया बयान पर तन्क़ीद की जिस में उन्होंने कहा कि अमरीका इसराईल की हमेशा हिमायत करता रहेगा। आप ने फ़रमाया कि फ़लस्तीनी रहनुमा और इसराईल के दरमियान मुज़ाकिरात हमवार होने चाहिए और फ़लस्तीनियों के हुक़ूक़ का तहफ़्फ़ुज़ होना चाहिए।

TOPPOPULARRECENT