Friday , December 15 2017

शाह मीरपेट में कांस्टेबल की हलाकत पर वज़ीर-ए-दाख़िला का इज़हारे अफ़सोस

साइबराबाद के हदूद में पेश आए वाक़िये में हलाक कांस्टेबल इश्वर की मौत पर तेलंगाना के वज़ीर-ए-दाख़िला ने अफ़सोस का इज़हार किया है और कांस्टेबल के ख़ानदान की हर तरह से मदद करने का यकीन दिया है।

साइबराबाद के हदूद में पेश आए वाक़िये में हलाक कांस्टेबल इश्वर की मौत पर तेलंगाना के वज़ीर-ए-दाख़िला ने अफ़सोस का इज़हार किया है और कांस्टेबल के ख़ानदान की हर तरह से मदद करने का यकीन दिया है।

डाकों के हमले में हलाक कांस्टेबल की लाश का पोस्टमार्टम अमल में लाया गया। वज़ीर-ए-दाख़िला ने उस्मानिया जनरल हॉस्पिटल पहोनचकर महलूक कांस्टेबल की लाश का दीदार किया और अफ़रादे ख़ानदान से मुलाक़ात की।

इस मौके पर साइबराबाद पुलिस कमिशनर सी वि आनंद भी मौजूद थे। बादअज़ां एन नरसिम्हा रेड्डी ने फायरिंग के मुक़ाम मजीद पर चौराहे का भी मुआइना किया और अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए बताया कि हलाक कांस्टेबल इश्वर के अफ़रादे ख़ानदान की हर तरह से मदद की जाएगी।

साथ ही उन्हों ने ज़ख़मी सब इन्सपेक्टर वेंकट रेड्डी की सताइश की जो फ़िलहाल एक कॉरपोरेट हॉस्पिटल में ज़ेर-ए-इलाज हैं। उन्होंने सब इन्सपेक्टर को मयारी तिब्बी सहूलयात और तमाम अख़राजात को सरकारी तौर पर बर्दाश्त करने का भरोसा दिलाया।

और उन की ख़िदमात की सिरहाना की। उन्होंने कहा कि नक़ली करंसी की टोली की गिरफ़्तारी के लिए पुलिस की ख़िदमात क़ाबिल-ए-सिताइश है। उन्होंने साइबराबाद पुलिस कमिशनर को हिदायत दी कि वो मुक़द्दमा में पेशरफ़त करें और ख़ाती अफ़राद को फ़ौरी गिरफ़्तारी अमल में लाई जाये

TOPPOPULARRECENT