Saturday , September 22 2018

शिवसेना ने बीजेपी पर बोला हमला, मोदी ने लोगों को सड़क पर आने के लिए मजबूर कर दिया

मुंबई : शिवसेना ने नोट बैन किये जाने के फैसले पर बीजेपी पर हमला बोला | इस फैसले को ‘नारकीय और अव्यवस्थित’  बताते हुए कहा कि इसकी वजह से देश में ‘वित्तीय अराजकता’ का माहौल है |

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने नोट बैन किये जाने के फैसले पर लोगों से सहयोग करने की भावनात्मक अपील की थी| लेकिन शिवसेना ने आरोप लगाया कि काले धन के प्रवाह को रोकने के लिए मोदी द्वारा अपनाया गया रास्ता ‘नारकीय’ और ‘अव्यवस्थित’ है | शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में कहा गया कि 125 करोड़ भारतीय बिना भोजन और पानी के लाइन में खड़े हैं | क्या भविष्य में आप उनसे समर्थन की उम्मीद करते हैं | आपने लोगों को सड़क पर आने के लिए मजबूर कर दिया है | उसके बाद भी आप उनसे आशीर्वाद की उम्मीद करते हैं |

शिवसेना ने कहा कि मोदी ने पाकिस्तान पर हमला बोलने के बजाय भारतीय नागरिकों को घायल कर दिया | अराजकता को सहने के लिए उन्हें सलाम कर उनके राष्ट्रवाद का मजाक उड़ाया है | जो लोग लाइन में खड़े हैं उनके पास काला धन नहीं है | जिनके पास काला धन है वे इसे विदेशी बैंकों में सुरक्षित तरीके से जमा कर चुके हैं| । उन कुछ लोगों के खिलाफ क्या कार्रवाई की गई ?

शिवसेना ने कहा कि आज, सब्जी बाजारों का कोई खरीददार नहीं मिल रहा है|  मजदूरों के पास कोई काम नहीं है, सड़कें खाली हैं, दुकानों का काम ठप्प है|  छुट्टे पैसे की कमी की वजह से पेट्रोल पंप धीरे-धीरे बंद हो रहे हैं| यह  जनता के साथ के साथ जबरदस्त धोखा है|

मोदी ने रविवार (13 नवंबर) को भारत में गलत तरीके से कमाये गए धन का सफाया करने के लिए 50 दिनों का समय मागंते हुए भावनात्मक अपील की थी |

 

TOPPOPULARRECENT