Thursday , January 18 2018

शीला दीक्षित की गुजरात हुकूमत की सताइश,मौक़िफ़ से फ़ौरी इन्हिराफ़

आगरा / नई दिल्ली, ०१ फरवरी: (पी टी आई) कांग्रेस पार्टी को आज अजीब-ओ-गरीब सूरत-ए-हाल से दो-चार होना पड़ा। पार्टी के इश्तिहार में नरेंद्र मोदी की तारीफ से पैदा शूदा तनाज़ा से अभी कांग्रेस बाहर निकल भी नहीं पाई थी कि चीफ मिनिस्टर दिल्ली शील

आगरा / नई दिल्ली, ०१ फरवरी: (पी टी आई) कांग्रेस पार्टी को आज अजीब-ओ-गरीब सूरत-ए-हाल से दो-चार होना पड़ा। पार्टी के इश्तिहार में नरेंद्र मोदी की तारीफ से पैदा शूदा तनाज़ा से अभी कांग्रेस बाहर निकल भी नहीं पाई थी कि चीफ मिनिस्टर दिल्ली शीला दीक्षित ने आज हुकूमत गुजरात की तारीफ करते हुए कहा कि इस बारे में कोई शक-ओ-शुबा नहीं कि गुजरात में तरक़्क़ी हो रही है ।

उन के तबसरा पर फिर एक मर्तबा सयासी हलचल पैदा होगई जिस के फ़ौरी बाद शीला दीक्षित ने अपने मौक़िफ़ की वज़ाहत करते हुए कहा कि वो एक उसे चीफ मिनिस्टर की सताइश नहीं कर सकती जो माबाद गोधरा फ़िर्कावाराना फ़सादाद का मुल्ज़िम है। शीला दीक्षित ने पी टी आई को बताया कि गोधरा फ़सादाद में मुलव्वस रहने वाले चीफ मिनिस्टर यह किसी लीडर की वो ताईद किस तरह करसकती हैं जबकि इन फ़सादाद में कई बेक़सूर लोग मारे गए।

उन्होंने कहा कि गोधरा फ़सादाद फ़िर्क़ा वारीयत पर मबनी थे और कांग्रेस के कारकुन ये सोच भी कैसे सकते हैं कि वो (शीला दीक्षित) उसे शख़्स की तारीफ करेंगी जो इन फ़सादाद का मुल्ज़िम है । क़बल अज़ीं शीला दीक्षित ने कहा था कि वो किसी पार्टी के बारे में बात नहीं कर रही हैं लेकिन इस ताल्लुक़ से दो राय नहीं होसकती कि गुजरात में तरक़्क़ी हो रही है और इस की वजह ये है कि हुकूमत दुबारा मुंतख़ब हुई है।

उन्हों ने कहा कि हुकूमत दुबारा क्यों मुंतख़ब होती है की उनका उसी हुकूमत ही दुबारा मुंतख़ब होती है जो तर कियाती काम अंजाम देती है । गुजरात हुकूमत की तारीफ पर सयासी हलचल के फ़ौरी बाद शीला दीक्षित के दफ़्तर ने बयान जारी करते हुए कहा कि उन्हों ने किसी चीफ मिनिस्टर की सताइश नहीं की बल्कि सिर्फ इतना कहा कि इसी हुकूमत जो बेहतर काम अंजाम देती है , उन्हें दुबारा इक़तिदार हासिल होता है ।

आगरा में मुनाक़िदा एक तक़रीब के दौरान शीला डकशट ने आसाम की मिसाल दी जहां कांग्रेस हुकूमत मुसलसल तीन मीआद केलिए मुंतख़ब हुई है ।वाज़िह रहे कि इस से पहले कांग्रेस ने यौम जमहूरीया के मौक़ा पर मुक़ामी अख़बारात में शाय किए गए इश्तिहारात में नरेंद्र मोदी की सराहना की थी।

रियासत के बाअज़ हिस्सों में यौम जमहूरीया के मौक़ा पर अख़बारात के साथ पमफ़्लेटस( pamphlet ) तक़सीम किए गए जिस में नरेंद्र मोदी की तस्वीर शाय थी और उसे एक बेहतर मुंतज़िम क़रार दिया गया था ।
गुजरात में दिसम्बर में रियासती असेंबली इंतिख़ाबात मुनाक़िद होने वाले हैं।

TOPPOPULARRECENT