Tuesday , December 12 2017

शुमाल मशरिक़ी दहशतगरदों से क़ौमी धारे में शामिल होने की अपील

मर्कज़ी मिनिस्टर आफ़ स्टेट दाख़िला किरण रिजीजू ने शुमाल मशरिक़ी इलाक़ों में सरगर्म दहशतगरदों से अपील की है कि वो तशद्दुद की राह तर्क करते हुए क़ौमी धारे में शामिल होजाएं।

मर्कज़ी मिनिस्टर आफ़ स्टेट दाख़िला किरण रिजीजू ने शुमाल मशरिक़ी इलाक़ों में सरगर्म दहशतगरदों से अपील की है कि वो तशद्दुद की राह तर्क करते हुए क़ौमी धारे में शामिल होजाएं।

कारबी पीपल्ज़ लिबरेशन टाइगर के साथ कल एनकाउंटर में हमरीम एस पी निंदा गोस्वामी और उन के पर्सनल स्कियोरटी ऑफीसर की हलाकत के वाक़िये के बाद रिजीजू ने आज यहां का दौरा किया।

उन्होंने चीफ़ मिनिस्टर तरूण गोगोई के हमराह बंद कमरा के इजलास में आसाम की ला ऐंड आर्डर की सूरत-ए-हाल का जायज़ा लिया।
बादाज़ं मुंतज़िर मीडिया के नुमाइंदों से बातचीत करते हुए उन्होंने दहशतगरदों से कहा कि वो अपने भाई और बहनों को हलाक ना करें और वो क़ौमी धारे में शामिल हो।

उन्होंने कहा कि इस तरह की सरगर्मीयों के ज़रीये वो ख़ुद अपने ही अवाम को नुक़्सान पहुंचा रहे हैं। रिजीजू ने कहा कि अगर आसाम में किसी तरह की मुश्किल पेश आए तो माबक़ी शुमाल मशरिक़ी हिस्सा भी मुतास्सिर होगा।

उन्हों ने कहा कि आप को वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी पर भरोसा करना चाहिए जो शुमाल मशरिक़ी इलाक़े की तरक़्क़ी के ख़ाहां हैं।

TOPPOPULARRECENT