शेरों ने किया इंसानों का शिकार, 18 शेर गिरफ़्तार

शेरों ने किया इंसानों का शिकार, 18 शेर गिरफ़्तार
Click for full image

गुजरात में एक औरत समेत तीन लोगों को मारकर खाने के मामले में 18 शेरों को पकड़ लिया गया है.
नियमों के मुताबिक जंगलों में बसने वाला शेर अगर इंसान का शिकार करता है, तो उससे जंगल में रहने का हक छीन लिया जाता है. उसे अपनी बाक़ी की ज़िंदगी सलाखों के पीछे काटनी पड़ती है.
हाल ही में गुजरात के गीर के जंगलों से सटे इलाक़ों में शेरों ने छह इंसानों पर हमला कर दिया. इनमें से दो मर्द और एक औरत को वो मारकर खा गए. इसके बाद वन विभाग ने 18 शेरों को पकड़कर पिंजरे में बंद कर दिया. अब इन 18 शेरों में से इंसानों का शिकार किसने किया, इसका पता लगाने के लिए वैज्ञानिक पद्धति से जांच हो रही है. जांच में जो शेर मुजरीम पाए जाएंगे, उन्हें छोड़कर बाक़ी बेकसूर शेरों को वापस जंगल में छोड़ दिया जाएगा.

इसमें एक शेर की रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है. इसका मतलब यह हुआ कि उस शेर ने तो इंसान को मारकर खाया है. हालांकि अभी नौ शेरों की मेडिकल रिपोर्ट नहीं आई है. सभी रिपोर्टें आने के बाद ही यह तय होगा कि कितने शेर मुजरीम हैं और कितने बेकसूर. शेरों को बचाने के लिए मुहिम चला रही वाईल्ड लाइफ़ एक्सपर्ट रुचि दवे का कहना था कि यह बहुत तज्जूब की बात है कि शेर इंसान का शिकार करने लगे हैं. यह उनका स्वभाव नहीं है. उन्होंने बताया कि इस मामले में मुजरीम शेर का पता लगाने के लिए जो नियम अपनाई गई है, वह बहुत कारगर और वैज्ञानिक है.

सोर्स : बीबीसी हिंदी डॉट कॉम

Top Stories