Sunday , December 17 2017

शेहर में बर्क़ी शेटडाउन एक घंटा बढ़ा दिया गया

सनअतों(इलाखे/units) को चार दिन बर्क़ी की सरबराही नहीं , बर्क़ी बोहरान में शिद्दत

सनअतों(इलाखे/units) को चार दिन बर्क़ी की सरबराही नहीं , बर्क़ी बोहरान में शिद्दत
सी पी डी सी एल के ओहदेदारों की तरफ़ से किसी बाक़ायदा ऐलान के बगैर दोनों शेहर हैदराबाद और‌ सिकंदराबाद में बर्क़ी शट डाउन में एक घंटा का इज़ाफ़ा कर दिया गया इस पर पैर 9 जुलाई से अमल शुरू होगया है और बर्क़ी सरबराही रोज़ाना दो घंटा की बजाय तीन घंटे बंद की जा रही है ।

अब तक वक़फ़ा के साथ एक एक घंटा बिजली की सरबराही बंद की जा रही थी अब देढ़ देढ़ घंटा बर्क़ी शट डाउन किया जा रहा है । इस तरह ग्रेटर हैदराबाद इलाके के घरेलू सारफ़ीन को दरपेश मुसीबतों में इज़ाफ़ा होगया है । इस दौरान सनअतों(इलाखे/units) केलिए अब चार दिन बर्क़ी सरबराही बंद की जा रही है ।

अब तक तीन दिन बर्क़ी सरबराही बंद की जाती थी । ये पहला मौक़ा है जब कि मानसून में घरेलू सारफ़ीन केलिए इस क़दर तवील अर्सा बर्क़ी सरबराही बंद की जा रही है । यानी गर्मा से ज़्यादा मानसून के दौरान बर्क़ी शट डाउन का अर्सा बढ़ा दिया गया है ।

मौसिम गर्मा में गर्मी और खेती बाड़ी के लिये बर्क़ी तलब में इज़ाफ़ा के बावजूद घरेलू सारफ़ीन के लिये बर्क़ी शट डाउन का अर्सा कम से कम था लेकिन अब सूरत-हाल बरअक्स है । बोहरान माह जून से शुरू हुआ जब कि ख़ानगी पैदा कननदों के साथ बर्क़ी खरीदे मुआहिदों की मुद्दत ख़तम‌ होगई ।

फ्यूल की क़िल्लत की वजह से बेशतर ग़ियास असास बर्क़ी प्रोजेक्ट‌ गैर कारकरद हैं और थर्मल बर्क़ी इस्टेशन में अचानक ब्रेक डाउन हुए हैं । आने वाले दिनों में अगर ख़ातिरख़वाह बारिश ना हुई तो जारीया बर्क़ी बोहरान अगस्त तक बरक़रार रहेगा

TOPPOPULARRECENT