Wednesday , December 13 2017

श्रीनगर में सीआरपीएफ़ पर हमला मसाइल पैदा करने की कोशिश:रिजीजू

हैदराबाद 27 जून: श्रीनगर में दहश्तगरदों के हाथों सीआरपीएफ़ के आठ अरकान की हलाकत को मुल्क के लिए मसाइल पैदाकरने की एक मायूसाना कोशिश क़रार देते हुए मर्कज़ी मिनिस्टर आफ़ स्टेट दाख़िला किरण रिजीजू ने कहा कि हुकूमत अमन-ओ-सलामती को यक़ीनी बनाने के अह्द की पाबंद है और इस सिलसिले में दरकार इक़दामात किए जाऐंगे।

हालिया वक़्तों में सिक्योरिटी फोर्सेस पर हलाकत ख़ेज़ हमले में दहश्तगरदों ने एक बस पर हमला करते हुए आठ सी आर पी एफ़ अहलकार हलाक हो गए थे और 21 दूसरे ज़ख़मी हो गए थे। दहश्तगरदों ने सीआरपीएफ़ की एक बस पर गोलीयों की बौछार कर दी थी। ये वाक़िया श्रीनगर में पामपोर के मुक़ाम पर पेश आया था। समझा जा रहा है कि ये लश्कर-ए-तयेबा का फाईन हमला था।

रिजीजू ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि ये वाक़िया अफ़सोसनाक है। हम दहश्तगरदों की तरफ से इस तरह के बहीमाना हमले की मज़म्मत करते हैं और हमारे जो जवान शहीद हुए हैं उन्हें ख़राज पेश करते हैं और अफ़रादे ख़ानदान से इज़हार-ए-हमदर्दी करते हैं। उन्होंने कहा कि सीआरपीएफ़ की टीम फायरिंग रेंज से अपने हेडक्वार्टर वापिस हो रही थी कि उन पर दरयाए जहलुम के क़रीब हमला कर दिया गया।

TOPPOPULARRECENT