Friday , December 15 2017

श्रीलंका में इंसानी हुक़ूक़ की ख़िलाफ़ अरज़ियो का नोट लेना ज़रूरी

नई दिल्ली. 27.

नई दिल्ली. 27. फरवरी (पी टी आई) श्रीलंका में नसली टामलों के ख़िलाफ़ इंसानी हुक़ूक़ की संगीन ख़िलाफ़ ताज़ा अरज़ियो के पेशे नज़र हिंदूस्तान ने कहा कि इस तरह के वक़ूअ होने वाले मसाइल के लिए हुकूमत को ज़िम्मेदार बनाया जाना चाहीए और ये मसला इस मुल्क के ख़िलाफ़ अक़वाम-ए-मुत्तहिदा की तजवीज़ के मुताबिक़ उठाया जा सकता है।

वज़ीर-ए-ख़ारजा सलमान ख़ूर्शीद ने ये वाज़िह कर दिया है कि श्रीलंका के ख़ुद मुख़ताराना मुआमलात में हिंदूस्तान बराह-ए-रास्त मुदाख़िलत करेगा जबकि राज्य सभा के अरकान ने श्रीलंका के मौजूदा हालात पर तशवीश का इज़हार किया है। इन अरकान ने उल्टी टी सरबराह मक़्तूल प्रभाकरण के 12 साला लड़के बाल चंद्रन की मौत की गैर जांबदार तहकीकात का मुतालिबा किया गया है।

यू पी ए की हलीफ़ पार्टी डी एम के ने कहा कि हुकूमत को इस मसले पर संजीदा तवज्जु देनी चाहीए । डी एम के के अरकान ने अना डी एम के और बाएं बाज़ू अरकान के साथ सलमान ख़ूर्शीद के जवाबी बयान पर अदम इत्मीनान का इज़हार करते हुए लोक सभा से वाक आउट करदिया।

TOPPOPULARRECENT