Wednesday , November 22 2017
Home / International / श्रीलंका में मुस्लिम महिला टीचरों को हिजाब की जगह साड़ी पहनने का फरमान

श्रीलंका में मुस्लिम महिला टीचरों को हिजाब की जगह साड़ी पहनने का फरमान

श्रीलंका में हिजाब पहनने वाली मुस्लिम महिला शिक्षकों की नियुक्ति को लेकर विवाद हो गया। बीबीसी के मुताबिक पूर्वी प्रांत बट्टिकलोवा के तमिल स्कूलों में पढ़ाने वाली मुस्लिम महिला टीचरों को हिजाब पहनने की जगह साड़ी पहनने को कहा गया है।

बट्टिकलोवा प्रांत की विधानसभा के एक सदस्य मोहम्मद फारुक शिफ़ली ने कहा कि अधिकारी जोर डाल रहे हैं कि स्कूल में मुस्लिम महिलाओं को हिजाब नहीं पहनना चाहिए, उन्हें साड़ी पहननी चाहिए। इसकी शिकायत उन्होंने पूर्वी प्रांत के शिक्षा मंत्रालय से भी की है। पर एक हफ्ते बाद भी इसपर कोई कार्रवाई नहीं किया गया है।

तमिल भाषा को मुख्य विषय लेकर डिप्लोमा करनेवाली 216 महिला शिक्षकों की नियुक्ति सरकारी स्कूलों में किया गया है। इनमें से 116 टीचर मुस्लिम हैं। इन सभी में से ज्यादातर की नियुक्ति तमिल स्कूलों में हुई है।

मोहम्मद फारुख शिफली ने बीबीसी के तमील सर्विस को बताया है कि ज्यादातर शिकायतें बट्टिकलोवा जिले के तमिल स्कूलों की मुस्लिम महिला शिक्षकों की तरफ से आ रही है। उन्होंने कहा कि श्रीलंकाई मुसलमानों की एक खास संस्कृति है। कोई भी उन्हें अपनी संस्कृति का पालन करने से नहीं रोक सकता। अगर किसी ने ऐसा किया तो उसे मानवाधिकार का उल्लंघन माना जाएगा।

शिफली ने यह भी कहा कि कई मुस्लिम महिलाएं श्रीलंका के सरकारी दफ्तरों में काम करती हैं और उन्हें हिजाब पहनने की इजाज़त है। केवल स्कूलों में मुस्लिम महिलाओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है जो कि चिंता की बात है।

TOPPOPULARRECENT