Thursday , December 14 2017

संघ का प्रचारक बनना चाहता है नितीश कुमार पर चप्पल उछालने वाला

पटना । मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दरबार में सोमवार को उस समय अफरा-तफरी मच गई, जब एक युवक ने उनपर चप्पल उछाल दिया। वह मुख्यमंत्री को अपनी समस्या सुनाते समय अचानक आवेश में आ गया। खास बात यह भी है कि चप्पल उछालने वाले युवक का नाम भी नीतीश कुमार है, वह संघ से जुड़ा बताया गया है और संघ का प्रचारक बनना चाहता है ।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

युवक सरकार के उस आदेश से खफा था, जिसके अनुसार सुबह नौ बजे से शाम छह बजे तक खाना बनाने या पूजा-पाठ के लिए आग जलाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। आक्रोशित युवक ने मुख्यमंत्री से सवाल किया कि आप हिंदू नहीं हैं क्या? नौ बजे के बाद पूजा-पाठ क्यों बंद करा दिये हैं?

बाद में मुख्यमंत्री ने प्रेस वार्ता में कहा कि अभी तक कुर्ते पर चप्पल का दाग है। मुख्यमंत्री बोले के उन्होंने डीजीपी से युवक को माफ कर देने को कहा है। कहा, “लोगों की सेवा के लिए कोई भी सजा भुगतने को तैयार हूं। फूलों की सेज पर बैठने के लिए मैंडेट नहीं है। इच्छा से कांटों का ताज ग्रहण किया है।” मुख्यमंत्री ने इस घटना में सुरक्षा की भी कोई चूक से इंकार किया।

चप्पल फैंकने वाला युवक अरवल का रहने वाला है। उसका भी नाम नीतीश कुमार है। पिछले दिनों उसे भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी के जनता दरबार में भी देखा गया था। वहां भी उसने हल्ला किया कि वह आरएसएस का प्रचारक बनना चाहता है। एडीजी (पुलिस मुख्यालय) सुनील कुमार ने बताया कि उसके खिलाफ सरकारी कामकाज में बाधा डालने का मुकदमा दर्ज किया गया है।

साभार:लोकभारत डॉट कॉम

TOPPOPULARRECENT