संजय दत्त की पेरोल के इख़तेताम पर जेल वापसी

संजय दत्त की पेरोल के इख़तेताम पर जेल वापसी
बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त आज यरवाड़ा जेल में वापिस होगए जबकि उनकी तो सेवी पेरोल जिस पर काफ़ी तन्क़ीदें हुईं, इख़तेताम पज़ीर होगई। संजय को गुज़श्ता साल 21 दिसम्बर को पेरोल पर रिहा किया गया था और दो मर्तबा तौसीअ दी गई। ये पेरोल उन की बीवी मान

बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त आज यरवाड़ा जेल में वापिस होगए जबकि उनकी तो सेवी पेरोल जिस पर काफ़ी तन्क़ीदें हुईं, इख़तेताम पज़ीर होगई। संजय को गुज़श्ता साल 21 दिसम्बर को पेरोल पर रिहा किया गया था और दो मर्तबा तौसीअ दी गई। ये पेरोल उन की बीवी मान्यता की बीमारी की बुनियादों पर चाही गई थी।

संजय पाँच साला क़ैद बामुशक़क़्त भुगत रहे हैं कि उन्होंने 12 मार्च 1993 के मुंबई धमाकों से क़ब्ल AK-56 राइफ़ल को गै़रक़ानूनी तौर पर क़बज़े में रखा और फिर उसे तलफ़ कर दिया। बॉलीवुड एक्टर ने गुज़श्ता साल आर्म्स एक्ट के तहत अपनी सज़ादही को फ़ाज़िल अदालत की जानिब से बरक़रार रखने जाने के बाद मई में टाडा कोर्ट के रूबरू ख़ुदसपुर्दगी इख़तियार की थी।

क़ब्लअज़ीं अदाकार ने गुज़श्ता साल अक्टूबर में तिब्बी बुनियादों पर जेल से 15 रोज़ा छुट्टी से इस्तिफ़ादा किया था, फिर इस में पिंदर हो उड़ा की मज़ीद तौसीअ हासिल की। उन्होंने तब से दो पेरोल तौसीअ चाहे जो आख़िर-ए-कार अब ख़त्म होगई है। संजय को अपनी पेरोल दरख़ास्तों पर अपने मकान और जेल के बाहर एहतेजाजों का सामना हुआ है।

Top Stories