सऊदी अरब का रुख रूस की ओर, हुए रक्षा सौदे, तेल उत्पादन का भी करेंगे कंट्रोल

सऊदी अरब का रुख रूस की ओर, हुए रक्षा सौदे, तेल उत्पादन का भी करेंगे कंट्रोल
Click for full image

नई दिल्ली :सऊदी के किसी राजा की पहली रूस यात्रा के दौरान दोनों मुल्कों के बीच तीन अरब डॉलर के रक्षा सौदे हुए हैं, जिसके तहत दूसरे हथियारों के अलावा रूस मध्य-पूर्वी देश को एंटी एयरक्राफ्ट मिसालइ सप्लाई करेगा.दोनों मुल्कों के बीच इस समझौते का ऐलान शाह सलमान और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की मास्को में हुई बैठक के बाद किया गया.

हालांकि सीरिया मसले पर दोनों देश अलग-अलग खेमों में हैं लेकिन दोनों का साथ आना और इस मुद्दे पर सहमति की कोशिश को अहम समझा जा रहा है.

शाह सलमान ने कहा, ”मुझे पूरी तरह से भरोसा है कि दोनों मुल्कों के बीच आर्थिक सहयोग को मज़बूत करने के बहुत सारे रास्ते हैं. ये निवेश और व्यापार के लिए आसानी पैदा करेंगे. हम दोनों अपने-अपने मज़बूतियों का इस्तेमाल उस लक्ष्य को पूरा करने के लिए करेंगे, जो सऊदी अरब के विज़न 2030 का हिस्सा हैं.”

रक्षा क्षेत्र में हुए सौदे के अलावा दोनों में तेल के क्षेत्र में भी समझौते हुए. तय हुआ है कि सऊदी अरब रूस के ऊर्जा क्षेत्र में एक अरब डॉलर का निवेश करेगा तो वहीं रूसी पेट्रोकेमिकल्स कंपनी सिबूर 1.1 अरब डॉलर का एक प्लांट अरब में लगाएगी.दोनों देशों में कच्चे तेल के उत्पादन को कंट्रोल में रखने को लेकर भी बातचीत हुई. पुतिन ने कहा कि तेल के उत्पादन में कटौती को अगले साल तक जारी रखने पर विचार हो रहा है.

Top Stories