Friday , December 15 2017

सऊदी अरब की अपने शहरीयों को शाम से वापसी की हिदायत

रियाज़-1डिसमबर ( एजैंसीज़) सऊदी अरब की वज़ारत-ए-ख़ारजा ने शाम में मुक़ीमअपने शहरीयों को हिदायत की है कि वो वहां से निकल जाएं और इस मलिक के अंदरून में सफ़र करने से गुरेज़ करें। सऊदी अरब की सरकारी ख़बररसां एजैंसी के मुताबिक़ वज़ारत-ए

रियाज़-1डिसमबर ( एजैंसीज़) सऊदी अरब की वज़ारत-ए-ख़ारजा ने शाम में मुक़ीमअपने शहरीयों को हिदायत की है कि वो वहां से निकल जाएं और इस मलिक के अंदरून में सफ़र करने से गुरेज़ करें। सऊदी अरब की सरकारी ख़बररसां एजैंसी के मुताबिक़ वज़ारत-ए-ख़ारजा ने एक ब्यान में शाम की स्कियोरटी की सूरत-ए-हाल के पेशे नज़र वहां मुक़ीमसऊदी शहरीयों से कहा है कि वो वापिस आजाऐं और इस मलिक के अंदर सफ़र ना करें।

इस से क़बल बहरीन और क़ुतर ने शाम में मुक़ीम अपने शहरीयों को वहां से निकल जाने की हिदायत की थी जबकि इस से पहले मुत्तहदा अरब इमारात ने भी गुज़शता साढे़ आठ माह से बदअमनी का शिकार इस मुल्क से अपने शहरों को वापिस आने का कह दिया था। अरब ख़लीजी रियास्तें शाम के ख़िलाफ़ बाईस रुकन ममालिक पर मुश्तमिल अरब लीग की पाबंदीयां आइद कराने में पेश पेश थीं। दमिशक़ में क़ुतर और सऊदी सिफ़ारत ख़ाने पर सदर बशार अलासद के हामीयों ने चंद रोज़ क़बल हमला किया था।

TOPPOPULARRECENT