सऊदी अरब की संस्कृति उत्सव में भारत पहली बार बना खास मेहमान

सऊदी अरब की संस्कृति उत्सव में भारत पहली बार बना खास मेहमान

भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज इन दिनों सऊदी अरब के दौरे पर हैं जहां उन्होंने जनाद्रिया उत्सव का उद्घाटन किया। इसमें सऊदी अरब की संस्कृति और विरासत का प्रदर्शन किया जाता है।

इस उत्सव के 32 वें संस्करण में भारत पहली बार अतिथि बना है। दो सप्ताह तक चलने वाले इस कार्यक्रम में कई तरह की चित्रकारी, संगीत और व्यंजन के कई कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

उद्घाटन करने के बाद विदेश मंत्री, सऊदी के किंग सलमान बिन अब्दुल अजीज के साथ पैविलयन पर पहुंची, जिस पैविलयन का थीम था “सऊदी का दोस्त भारत”, इसी थीम पर सजे पवैलियन नृत्य और संगीत के माध्यम से भारत की जीवंत सस्कृति को प्रस्तुत किया गया। .

योग, आयुर्वेद, वस्त्र और पर्यटन जैसे चीजों ने जहां भारत की परंपरागत छवि दिखाई, वहीं डिजिटल क्रांति, अंतरिक्ष और रक्षा प्रौद्योगिकियों में उपलब्धियां, मेक इन इंडिया और डिजिटल भारत जैसे कार्यक्रमों ने भारत की आधुनिक शक्ति से अवगत कराया।

कार्यक्रम के बाद सुषमा स्वराज ने सऊदी के किंग के साथ द्विपक्षीय रणनीतिक साझेदारी को और बढ़ाए जाने के कदमों तथा एक दूसरे की प्रगति में सहयोग करने के संबंध में विचार-विमर्श किया।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रविश कुमार ने बताया विदेश मंत्री और किंग के बीच हुई चर्चा व्यापार और निवेश बढ़ाने के साथ ही ऊर्जा, रक्षा, सुरक्षा और लोगों के स्तर पर संपर्क को और मजबूत करने पर केंद्रित थी।

सऊदी के किंग ने भी भारत का आभार प्रकट करते हुए कहा कि सऊदी में करीब 30 लाख से अधिक भारतीय लोग रहते हैं, जो सऊदी की अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण योगदान देते हैं।

Top Stories