Sunday , August 19 2018

सऊदी अरब के ख़वातीन स्टोरस में ख़वातीन के तक़र्रुरात

जद्दा 2 जनवरी (एजैंसीज़) जद्दा के निस्वानी मलबूसात और हुस्न अफ़ज़ा मसनूआत के 80 फ़ीसद स्टोरस पर फ़रोख़त केलिए सऊदी ख़वातीन का तक़र्रुर किया गया है। वज़ारत मेहनत ने सऊदी ख़वातीन के तक़र्रुर केलिए जनवरी तक क़तई आख़िरी मोहलत दी है।

जद्दा 2 जनवरी (एजैंसीज़) जद्दा के निस्वानी मलबूसात और हुस्न अफ़ज़ा मसनूआत के 80 फ़ीसद स्टोरस पर फ़रोख़त केलिए सऊदी ख़वातीन का तक़र्रुर किया गया है। वज़ारत मेहनत ने सऊदी ख़वातीन के तक़र्रुर केलिए जनवरी तक क़तई आख़िरी मोहलत दी है। जुदा चैंबर आफ़ कॉमर्स ऐंड इंडस्ट्री के मोतमिद उमूमी अदनान अलहम्द विरह ने एक ब्यान में कहा कि ख़वातीन की मसनूआत फ़रोख़त करने वाले स्टोरस के मालिकों ने वज़ारत मेहनत के इस लज़ूम आइद करने के फ़ैसला को मुल्तवी करदने की ख़ाहिश की है।

ताहम जुदा में हुस्नअफ़ज़ा मसनूआत, ख़वातीन के फ़ैशन के लवाज़मात और ज़ेर जामा जैसे मलबूसात फ़रोख़त करने वाले 80 फ़ीसद स्टोरस ने मुलाज़मत केलिए सऊदी ख़वातीन की तलाश शुरू करदी है। वोज़ारत मेहनत की हरायात के बमूजब मलबूसात फ़रोख़त करने केलिए सऊदी ख़वातीन और ख़ातून कैशीयरस के तक़र्रुर का लज़ूम आइद किया गया है। तक़र्रुरात के बाद मुलाज़िम सऊदी ख़वातीन ने वज़ारत मेहनत के अहकाम पर इज़हार मुसर्रत किया।

उन्हों ने कहाकि इस तरह सऊदी ख़वातीन को रोज़गार हासिल होगा और ख़ातून गाहक मर्दों से ख़रीदारी के सिलसिला में रब्त पैदा करने से बच जाएंगी।

TOPPOPULARRECENT