Monday , December 18 2017

सऊदी अरब के बिशमोल ख़लीज में कल पहला रोज़ा

रियाद, 9 जुलाई: (एजेंसी ) सऊदी अरब में रमज़ानुल मुबारक का चांद नज़र नहीं आया जिस के बाद पहला रोज़ा चहारशंबा 10 जुलाई को होगा। सऊदी अरब की आला अदालती कौंसल के ऐलान के मुताबिक़ रमज़ानुल मुबारक 1434 ह का चांद नज़र नहीं आया।

रियाद, 9 जुलाई: (एजेंसी ) सऊदी अरब में रमज़ानुल मुबारक का चांद नज़र नहीं आया जिस के बाद पहला रोज़ा चहारशंबा 10 जुलाई को होगा। सऊदी अरब की आला अदालती कौंसल के ऐलान के मुताबिक़ रमज़ानुल मुबारक 1434 ह का चांद नज़र नहीं आया।

क़ब्लअज़ीं सऊदी अरब में सुप्रीम कोर्ट के हुक्म के तहत रमज़ान का चांद देखने के लिए रवैय्यत हिलाल कमेटीयों का इजलास हुआ जिस में आवाम की जानिब से फ़राहम किए जाने वाले शवाहिद और हक़ायक़ की बुनियाद पर मंगल 9 जुलाई को पहला रोज़ा ना होने का ऐलान किया गया।

ख़्याल रहे कि सऊदी अरब में महिरीन-ए-फ़लकीयात ने कल (पीर को) चांद नज़र आने की पेश क़ियासी की थी। इस दौरान मुत्तहदा अरब अमीरात की वज़ारत इंसाफ़ के आलामीया के मुताबिक़ मुल्क भर में कहीं भी रमज़ान का चांद नज़र नहीं आया जिस के नतीजे में मुत्तहदा अरब अमीरात में भी पहला रोज़ा अब चहारशंबा 10 जुलाई को होगा। दरीं असना अरब टी वी के मुताबिक़ ख़लीजी ममालिक मिस्र और अरदन में भी पहला रोज़ा चहारशंबा को होगा।

TOPPOPULARRECENT