Monday , December 11 2017

सऊदी अरब के शीया इलाक़ों में एहतेजाजी मुज़ाहिरे

शीया मज़हबी रहनुमा शेख़ अल नमर की फांसी के बाद से सऊदी अरब के हज़ारों शीया मुज़ाहिरीन हर रात मुज़ाहिरे कर रहे हैं। दरीं अस्ना ईरान ने इल्ज़ाम आइद किया है कि सऊदी जंगी जहाज़ों ने यमन में इस के सिफारतख़ाने पर बमबारी की है।

तेल की पैदावार के लिहाज़ से मशहूर सऊदी अरब के मशरिक़ी इलाक़े में बदअमनी फैलने के ख़दशात बढ़ते जा रहे हैं। चंद रोज़ पहले सऊदी अरब ने एक ही दिन में सैंतालीस अफ़राद को मौत के घाट उतार दिया था और उनमें से चार का ताल्लुक़ शीया अक़ल्लीयत से था।

सबसे ज़्यादा एहतेजाज मज़हबी रहनुमा अल नमर की फांसी पर किया गया और इस शीया रहनुमा के आबाई इलाक़े क़तीफ़ में भी हालात बदअमनी की जानिब बढ़ रहे हैं। क़तीफ़ में आबाद शीया कम्यूनिटी के मुताबिक़ अल नमर की सज़ा-ए-मौत ग़ैर मुन्सिफ़ाना है।

क़तीफ़ की शीया कम्यूनिटी के एक लीडर का न्यूज़ एजेंसी रोइटर्स से टेलीफ़ोन पर गुफ़्तगु करते हुए कहना था, लोग सरापा एहतेजाज हैं और हैरान भी हैं, क्यों कि गुज़िश्ता चंद महीनों में ऐसे मुसबत इशारे दिए गए कि उनको सज़ा-ए-मौत नहीं दी जाएगी। लोग उनकी तक़रीरें सुनते थे और ऐसे कोई भी शवाहिद नहीं हैं कि वो पुर तशद्दुद थे।

TOPPOPULARRECENT