सऊदी अरब के हवाई हमले से यमन में 20 हिंदुस्तानियो के मारे जाने का खदशा

सऊदी अरब के हवाई हमले से यमन में 20 हिंदुस्तानियो के मारे जाने का खदशा
Click for full image

यमन के आज़ाद सेक्युरिटी आफीसरों और ऐनीशाहिदीनो ने कहा है कि मरीब सूबे में सऊदी अरब की कियादत वाले इत्तेहाद ने मंगल के रोज़ हवाई हमले किए. इन हमलों में 20 हिंदुसानी शहरियों के मारे जाने का खदशा है.

हिंदुस्तानी वज़ारत ए खारेज़ा का कहना है कि वह मीडिया में मुबय्यना तौर से जिन 20 हिंदुस्तानी शहरियों के मारे जाने की रिपोर्ट आई है, उसके बारे में वज़ारत मालूमात करने में जुटा है.

यह हमला तेल तस्करों पर किया गया था. इब्तिदायी मालूमात के मुताबिक यह हमला एक बंदरगाह में किया गया है. हालांकि अबतक सही मालूमात नहीं मिल पायी है कि यह हमला किस मकसद से किया गया दूसरी तरफ यह भी खबरें आ रही है कि हूथी विद्रोहियों और उसके सहयोगी ठिकानों पर यह हमला किया गया है

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक आज़ाद सेक्युरिटी आफीसरों और ऐनी शाहीदीन का कहना है कि मरीब सूबे में हुए इन हमलों में 12 शिया बागियों के भी मारे जाने की खबर है. हूथी बागी ग्रुप के आफीसरों ने इसकी तस्दीक की है कि 20 से ज़्यादा हवाई हमले किए गए.

फिलहाल कोई भी फरीक ने कोई नया इलाका अपने कब्जे में नहीं ले पाया है.मरीब सूबे में ही बागियों ने मिसाइल हमला कर 45 अमीराती फौजियों को मार दिया था.

गौरतलब है कि यमन के हुदेदाह बंदरगाह में ईंधन तस्करों पर सऊदी अरब की अगुवाई में हुए हमलों में कम से कम 20 हिंदुस्तानी शहरियों की जान चली गयी. वहां के मछुआरों ने दावा किया कि हुदेदाह बंदरगाह के करीब अल खोखा में इस हमले में दो नाव निशाना बनीं. यमन में हिंदुस्तानी सिफारतखाना नहीं है. हिंदुस्तानियों को वहां से निकाले जाने के बाद अप्रैल में हिंदुस्तानी सिफारतखाना बंद कर दिया गया था.

Top Stories