सऊदी अरब: पैगंबर मोहम्मद (PBUH) के खिलाफ टिप्पणी करने वाले भारतीय को 10 साल की सजा

सऊदी अरब: पैगंबर मोहम्मद (PBUH) के खिलाफ टिप्पणी करने वाले भारतीय को 10 साल की सजा

सऊदी अरब में काम के लिए गए एक भारतीय युवक को 10 साल जेल की सजा दी गई है. इस युवक पर आरोप है कि उसने सोशल मीडिया पर पैगंबर मोहम्मद को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की, जिसके बाद उसे सजा सुनाई गई.

सजा पाने वाला युवक केरल के अलप्पुझा का है. हालांकि, यह मामला बीते साल जून महीने का है. अब युवक के पिता ने भारत सरकार और सांसद शशि थरूर से इस दिशा में कदम उठाने की मांग की है.

मीडिया रिपोर्ट्स में युवक विष्णु देव राधाकृष्णन के पिता राधाकृष्णन नायर ने दावा किया है कि उनका बेटा जून, 2018 से जेल में है. नायर को इस संबंध में दूतावास और की तरफ से जो पत्र प्राप्त हुआ है, उसमें बताया गया है कि विष्णु को सोशल मीडिया पर टिप्पणी करने के चलते ईशनिंदा और सऊदी अरब के खिलाफ टिप्पणी के आरोप में यह सजा दी गई है.

विष्णु के पिता ने बताया कि उनका बेटा मैकेनिकल इंजीनियर है और बीते 6 साल से सऊदी अरब में प्लानिंग इंजीनियर के तौर पर काम कर रहा था. उन्होंने बताया कि ट्विटर पर विष्णु की दोस्ती ब्रिटेन की मुस्लिम महिला से हुई. इस दौरान दोनों के बीच मैसेज पर बातचीत होने लगी. राधाकृष्णन नायर का दावा है कि जब मुस्लिम महिला ने विष्णु से बातचीत में हिंदू देवी-देवताओं के खिलाफ टिप्पणी की तो इसके जवाब में विष्णु ने पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ कोई कमेंट कर दिया.

विष्णु के ये ट्वीट सर्वर में रिकॉर्ड हो गए, जिन्हें बाद में सऊदी पुलिस को भेजा गया. पुलिस ने जून 2018 में विष्णु को गिरफ्तार कर लिया. सितंबर में उसे 5 साल की सजा सुनाई गई और 1.5 लाख सऊदी रियाल का जुर्माना लगाया गया. इसके बाद इसी साल 24 जनवरी को विष्णु की सजा बढ़ाकर 10 साल कर दी गई.

विष्णु के पिता राधाकृष्णन नायर ने विदेश मंत्रालय से इस मसले पर मदद की गुहार लगाई है. बता दें कि नायर 21 साल तक भारतीय एयरफोर्स में रहे हैं.

Top Stories