Thursday , December 14 2017

सऊदी अरब में शाह अबदुल्लाह से मुलाक़ात के बाद वज़ीर-ए-दिफ़ा अंटोनी का ब्यान

वज़ीर-ए-दिफ़ा ए के अंतोनी ने इस तास्सुर का इज़हार किया है कि ख़लीज की मौजूदा सूरत-ए-हाल हिंदूस्तान के लिए सख़्त तशवीशन का सबब है। उन्होंने तवक़्क़ो ज़ाहिर की कि इस इलाक़ा में पैदा शूदा बोहरान मुज़ाकरात के ज़रीया पुरअमन तरीक़ा से हल कर ल

वज़ीर-ए-दिफ़ा ए के अंतोनी ने इस तास्सुर का इज़हार किया है कि ख़लीज की मौजूदा सूरत-ए-हाल हिंदूस्तान के लिए सख़्त तशवीशन का सबब है। उन्होंने तवक़्क़ो ज़ाहिर की कि इस इलाक़ा में पैदा शूदा बोहरान मुज़ाकरात के ज़रीया पुरअमन तरीक़ा से हल कर लिया जाएगा।

वज़ीर-ए-दिफ़ा जो दो रोज़ा दौरा पर सऊदी अरब पहूंचे हैं कहा कि हिंदूस्तानी ख़ारिजा पालिसी में ख़लीजी इलाक़ा को ग़ैरमामूली एहमीयत हासिल है क्योंकि हिंदूस्तानी तेल दरआमदात का निस्फ़ हिस्सा इस इलाक़ा से हासिल किया जाता है।

मिस्टर अंटोनी ने कहा कि ख़लीजी इलाक़ा की मौजूदा सूरत-ए-हाल हिंदूस्तान के लिए बाइस तशवीश है। उन्होंने तवक़्क़ो ज़ागहर की कि इस बोहरान को मुज़ाकरात के ज़रीया पुरअमन तरीक़ा से हल कर लिया जाएगा। ईरान के मुतनाज़ा न्यूक्लियर प्रोग्राम पर अमेरीका और योरोपी यूनीयन की तरफ़ से इस मुल्क पर आइद की जाने वाली पाबंदीयों के तनाज़ुर में मिस्टर अंटोनी ने ये तबसिरा किया है।

मिस्टर अंटोनी ने गुज़श्ता रोज़ रियाज़ पहूंचने के फ़ौरी बादशाह अबदुल्लाह बिन अबदुल अज़ीज़ से मुलाक़ात की थी। दोनों क़ाइदीन ने निस्फ़ घंटे की बातचीत के दौरान दोनों मुल्कों के दौर हिक्मत-ए-अमली की साझेदारी, बिलख़सूस सलामती, दिफ़ा, इक़्तिसादी-ओ-सयासी शोबों में बाहमी तआवुन पर इतमीनान का इज़हार किया। शाह अबदुल्लाह ने हिंदूस्तान को मुम्किना मदद की पेशकश की जिस में अगर ज़रूरी हो ख़ाम तेल की ज़ाइद सरबराही भी शामिल है।

मिस्टर अंटोनी ने उम्मीद ज़ाहिर की है कि सऊदी अरब के दौरा से हिंद- सऊदी अरब ताल्लुक़ात को एक नई जिहत हासिल होगी।

TOPPOPULARRECENT