Monday , January 22 2018

सऊदी उल्मा की सोशल मीडिया पर सरगर्मीयों की निगरानी

सऊदी वज़ारत बराए इस्लामी उमूर और औक़ाफ़ ने सोशल मीडिया के इस्तेमाल के लिए रहनुमाई और निगरानी का एक निज़ाम वज़ा करते हुए तमाम, ख़ुत्बा, आयमा और सरकारी मुबल्लग़ीन की सोशल मीडिया पर सरगर्मीयों को बाक़ायदा बनाने का फ़ैसला किया है।

सऊदी वज़ारत बराए इस्लामी उमूर और औक़ाफ़ ने सोशल मीडिया के इस्तेमाल के लिए रहनुमाई और निगरानी का एक निज़ाम वज़ा करते हुए तमाम, ख़ुत्बा, आयमा और सरकारी मुबल्लग़ीन की सोशल मीडिया पर सरगर्मीयों को बाक़ायदा बनाने का फ़ैसला किया है।

इस मक़सद के लिए एक मॉनिट्रिंग कमेटी क़ायम कर दी गई है। ये कमेटी मुताल्लिक़ा अफ़राद की तरफ़ से सोशल मीडिया पर पेश कर्दा तहरीरों, ब्यानात और तसावीर वग़ैरा का जायज़ा लेगी।

सऊदी नायब वज़ीर तौफ़ीक़ बिन अब्दुल अज़ीज़ अल सदीरी ने इस हवाले से कहा, वज़ारत के तमाम मुलाज़मीन और वाबस्तगान की सोशल मीडिया के हवाले से तमाम तर सरगर्मीयों की निगरानी की मज़कूरा कमेटी ज़िम्मेदार होगी, हम चाहते हैं कि ये कमेटी अवाम को भी रहनुमाई फ़राहम करे और सोशल मीडिया पर पेश किए जाने वाले ग़लत ब्यानात का अज़ाला करे।

TOPPOPULARRECENT