Saturday , December 16 2017

सऊदी की पहली रोबोट नागरिक सोफिया करना चाहती है फैमिली प्लानिंग

सोफिया को उम्मीद है कि एक दिन उसके बच्चे होंगे, दोस्त बनेंगे, वह फेमस होगी और उसका शानदार करियर होगा. यह सारे सपने बहुत अच्छे हैं और यह एक सामान्य इंसान के हैं. लेकिन, अगर यही ख्वाब किसी रोबोट के हों तो आप क्या कहेंगे. जी हां. सोफिया कोई और नहीं, बल्कि एक रोबोट है. सोफिया को पिछले महीने सऊदी अरब ने अपने यहां की नागरिकता दी है.

सोफिया ने इंटरव्यू में कहा, ‘रोबोट्स को जटिल मनोभाव विकसित करने में वक्त लगेगा और संभवतः रोबोट्स को क्रोध, ईर्ष्या और घृणा जैसी समस्याओं से भरे मनोभावों के बिना तैयार किया जा सकेगा. उन्होंने इंसानों के मुकाबले रोबोट्स को ज्यादा नैतिक बनाना संभव होगा.’

रोबोट सोफिया ने कहा कि इंसानों और रोबोट्स के बीच अच्छी साझेदारी होगी. सोफिया ने कहा कि जो लोग आगे चलकर रोबोटिक्स के विकास का प्रतिनिधित्व करेंगे, मैं उनके लिए रोबोटिक्स और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की जागरूकता लेकर आऊंगी.

सोफिया एक रोबोट है, जिसे हैनसन रोबोटिक्स ने बनाया है. सोफिया को बनाने वाले डेविड हैनसन के मुताबिक उसकी उम्र अभी 19 महीने है. सोफिया को हाल में सऊदी अरब की सरकार ने अपनी नागरिकता दी है. दुनिया के किसी मुल्क ने पहली बार किसी रोबोट को अपनी नागरिकता दी है.

सोफिया को पहले से तैयार आंसर के जरिए प्रोग्राम्ड नहीं किया गया है. सोफिया का दिमाग एक सिंपल WiFi कनेक्शन के साथ काम करता है, जिसमें शब्दावली की एक लंबी लिस्ट है. सोफिया मशीन लर्निंग का इस्तेमाल करती है. वह इंसानों के चेहरों के भाव को पढ़ती है और उत्तर देने के लिए थोड़ा रुककर टेक्स्ट जेनरेट करती है.

TOPPOPULARRECENT