Friday , December 15 2017

सऊदी तलबा के लिए हैदराबाद पहली पसंद:डक्टर काली अलशहरी

हैदराबाद 17 जुलाई:सिफ़ारत ख़ाना ममलकत सऊदी अरब नई दिल्ली में मुतयना सक़ाफ़्ती-ओ-तालीमी कौंसिल डक्टर अली मुहम्मद अलशहरी ने आज यहां कहा कि सऊदी अरब के तलबा हुसूल-ए-ताअलीम के लिए हिन्दुस्तान में हैदराबाद शहर को अपनी पहली पसंद क़रार देते

हैदराबाद 17 जुलाई:सिफ़ारत ख़ाना ममलकत सऊदी अरब नई दिल्ली में मुतयना सक़ाफ़्ती-ओ-तालीमी कौंसिल डक्टर अली मुहम्मद अलशहरी ने आज यहां कहा कि सऊदी अरब के तलबा हुसूल-ए-ताअलीम के लिए हिन्दुस्तान में हैदराबाद शहर को अपनी पहली पसंद क़रार देते हैं।

डक्टर अली अलशहरी आज होटल ताज कृष्णा बंजारा हिलज़ में अपनी तरफ से मुख़्तलिफ़ तालीमी इदारों से वाबस्ता माहिरीन और मोअज़्ज़िज़ीन शहर के एज़ाज़ में एक दावत इफ़तार का एहतिमाम किया।

इस मौके पर जनाब ज़ाहिद अली ख़ां एडीटर सियासत ने डक्टर अली अलशहरी की हिन्दुस्तान और सऊदी अरब के दरमयान सक़ाफ़्ती-ओ-तालीमी ताल्लुक़ात में मज़ीद इस्तिहकाम के लिए अंजाम दी जाने वाली ख़िदमात पर मुसर्रत का इज़हार करते हुए तारीख़ी चारमीनार का मोमिनटो बतौर तोहफ़ा पेश किया।

जबकि मौलाना पैर सयद शब्बीर नक़्शबंदी जो हिंद । सऊदी ताल्लुक़ात के इस्तिहकाम में पिछ्ले 30 साल से नुमायां ख़िदमात अंजाम दे रहे हैं, सऊदी सिफ़ारत कार को एक मुक़द्दस तस्बीह पेश की।

इस मौके पर डक्टर सयद जहांगीर ने अरबी में डक्टर अली अलशहरी को मंजूम ख़िराज-ए-तहिसीन पेश किया। जनाब ज़ाहिद अली ख़ां जो इस महफ़िल में मेहमान ख़ुसूसी की हैसियत से शरीक थे, डक्टर अली अलशहरी को इदारा सियासत की तरफ से हैदराबाद में ज़ेर-ए-तालीम सऊदी तलबा-ए-ओ- तालिबात को स्पोकन इंग्लिश क्लासेस का एहतिमाम करने का पेशकश किया जिस का डक्टर अली अलशहरी ने ख़ौरमक़दम करते हुए इस ख़सूस में बहुत जल्द इदारा सियासत से मुशावरत करते हुए रूबा अमल लाने का इज़हार किया।

सऊदी सिफ़ारत कार ने कहा कि हैदराबाद दक्कन तहज़ीब-ओ-तालीम का गहवारा है और यहां आला तालीम का हुसूल बिलख़सूस सऊदी तालिबात के लिए बहुत ही मौज़ूं मुक़ाम है।

इस तक़रीब में डक्टर ख़्वाजा शाहिद प्रो वाइस चांसलर मौलाना आज़ाद उर्दू यूनीवर्सिटी, डायरेक्टर दायर अलमारफ़ डक्टर मुस्तफ़ा शरीफ़ के अलावा मुख़्तलिफ़ यूनीवर्सिटीयों के प्रोफेसर्स और असातिज़ा मौजूद थे।

डक्टर अली अलशहरी ने शहर में मुक़ीम सऊदी तलबा से उनके तालीमी मसाइल पर बातचीत की और आख़िर में उन्होंने मेहमानों का फ़र्दन फ़र्दन शुक्रिया अदा किया। नमाज़ मग़रिब बाजमाअत अदा की गई और इस मौके पर ख़ुसूसी दुआ की गई।

TOPPOPULARRECENT