सऊदी महिलाओं को स्पोर्ट्स और फिटनेस मेन्टल पॉवर बढ़ाने के लिए प्रशिक्षित करेगी ‘स्वेत आर्मी’

सऊदी महिलाओं को स्पोर्ट्स और फिटनेस मेन्टल पॉवर बढ़ाने के लिए प्रशिक्षित करेगी ‘स्वेत आर्मी’

रियाद : निजी प्रशिक्षण और बूट कैंपों के आठ साल बाद, रवान जहरां ने अपने बूट कैंप के अनुभव को नैक्सट लेवल पर ले गई है और अब वो अपना मूवमेंट को शुरू करने के लिए प्रोग्राम लॉंच कर दिया है। सऊदी महिला अभी तक अपने घर की गोपनीयता में प्रशिक्षण प्रदान कर रही थी। जैसा कि हाल में सऊदी अरब में महिलाओं के स्वास्थ्य, फिटनेस और खेल में समर्थन मिलने के बाद अब उसे ट्रेनिंग की जरूरत पड़ने वाली है और अब उसके लिए जहरां एक फिटनेस केंद्र खोलने के लिए सक्षम है जो कुशलता से डिजाइन किए गए ‘स्वेत आर्मी’ महिलाओं को ट्रेन करने के लिए समर्पित हैं।

मानव संसाधन प्रबंधन में स्नातक विज्ञान की डिग्री रखने के अलावा जहरां ने अंतर्राष्ट्रीय स्पोर्ट साइंस एसोसिएशन (आईएसएसए), वीआईपी, टीआरएक्स, एक्सएलआर 8, बोसू और जेडयूयू स्तर सहित कई प्रशिक्षण प्रमाणपत्र प्राप्त किए हैं।

‘स्वेत आर्मी’ के लिए जहरां ने कई प्रकार की कक्षाएं तैयार की हैं, जिनमें “रन एंड रोल” सहित विभिन्न फिटनेस लेवल वाली क्लास शामिल हैं, जो हृदय और शरीर पर केंद्रित है, “YOMP फिट” लचीलेपन और ताकत पर केंद्रित है, “बॉडी एवरेनेस” जो योग से प्रभावित है, पिलेट्स और बैर जो शारीरिक तंत्र, लचीलेपन और आसन को बेहतर बनाने और मानसिक जागरूकता बढ़ाने के लिए डिज़ाइन की गई व्यायाम की एक प्रणाली है। एक प्रशिक्षण क्लास के हर कक्षा में नई फिटनेस तकनीकों को नया रूप देने पर ध्यान केंद्रित किया गया है, ये ग्रुप ने लोगों को चुनौती दे डाली है और आश्चर्यचकित भी किया है “स्वेत स्पिन”, संगीत और स्टेशनरी बाइक को शामिल करने वाला एक सुखद क्लास और अंत में “चैलेंज, “एक प्रतियोगिता आधारित क्लास जो प्रत्येक सत्र के अंत में समूहों को टीमों में विभाजित करता है, विजेताओं और हारने वालों के लिए।

जहरां ने ट्रेनर्स रानीया जहरां और नेहाद सुलेमानी को भर्ती होने वाली लड़कियों की अगुवाई करने में मदद करने के लिए भर्ती की है। दोनों अंतर्राष्ट्रीय स्पोर्ट साइंस एसोसिएशन द्वारा प्रमाणित प्रशिक्षक भी हैं। साथ में, वे स्थानीय महिला खेलों की टीमों के लिए अपने संपूर्ण स्वास्थ्य, और प्रदर्शन को बढ़ाने के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रमों को डिज़ाइन और विकसित करने की योजना बना रहे हैं। कार्यक्रम ‘स्वीट सपोर्ट’ का मुख्य उद्देश्य, ओलंपिक खेलों का हिस्सा बनने के लिए सऊदी अरब के विजन 2030 का समर्थन करना है।

‘स्वेत आर्मी’ ने आधिकारिक तौर पर 27 फरवरी, 2018 को अपने दरवाजे खोल दिए और अल-नाहदा जिले के प्रिंस सुल्तान स्ट्रीट पर स्थित है। माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने वाली पहली सऊदी महिला, राहा मोहरक स्थानीय ने लॉन्च समारोह में भाग लिया। मोहरक ने जहरां के साथ, सऊदी महिलाओं के लिए स्वास्थ्य और फिटनेस के महत्व के बारे में बात की।

Top Stories