सऊदी में इन्सिदाद-ए-दहशत गर्दी मुहिम, 88 अफ़राद गिरफ़्तार

सऊदी में इन्सिदाद-ए-दहशत गर्दी मुहिम, 88 अफ़राद गिरफ़्तार
सऊदी अरब ने 88 मुश्तबा इंतिहा पसंदों को गिरफ़्तार करलिया है, जिन में निस्फ़ से ज़ाइद साबिक़ा अलक़ायदा महरूसीन हैं जिन्हें क़ब्ल अज़ीं रिहा कर दिया गया था , विज़ारत-ए-दाख़िला ने आज ये ऐलान किया।

सऊदी अरब ने 88 मुश्तबा इंतिहा पसंदों को गिरफ़्तार करलिया है, जिन में निस्फ़ से ज़ाइद साबिक़ा अलक़ायदा महरूसीन हैं जिन्हें क़ब्ल अज़ीं रिहा कर दिया गया था , विज़ारत-ए-दाख़िला ने आज ये ऐलान किया।

विज़ारत ने सरकारी एस पी ए न्यूज़ एजैंसी के ज़रीया अपने बयान में मज़ीद कहा कि ये गिरफ्तारियां सलतनत की उन लोगों को सज़ा देने की मुहिम का हिस्सा है, जो दहश्तगर्दी के ज़मुरा में आने वाले ग्रुपों से ताल्लुक़ रखते हैं या उन की ताईद करते हैं। सऊदी किंग अबदुल्लाह ने जुमा को ज़ोर देकर कहा था कि जिहादीयों से ख़तरा दरपेश है तावक़ते के कार्रवाई ना की जाये।

विज़ारत ने आज कहा कि मुश्तबा अफ़राद जो सारी सलतनत में गुज़शता चंद महीनों के दौरान हिरासत में लिए गए, वो तमाम सऊदी शहरी हैं, सवाए तीन यमनी शहरीयों के और एक की शनाख़्त हनूज़ नामालूम है।

इन में से 59 को साबिक़ में सरकश ग्रुप से उन के राबिता की पादाश में गिरफ़्तार किया गया था। हुक्काम ने सलतनत में 2003-06 के दौरान सिलसिला वार मुहलिक हमलों के पेशे नज़र अलक़ायदा के ख़िलाफ़ ज़बरदस्त मुहिम शुरू की थी।

Top Stories